DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › नए मेडिकल कॉलेजों से अस्पतालों में बढ़ेंगे डॉक्टर
सिद्धार्थ

नए मेडिकल कॉलेजों से अस्पतालों में बढ़ेंगे डॉक्टर

हिन्दुस्तान टीम,सिद्धार्थPublished By: Newswrap
Sat, 23 Nov 2019 12:23 AM
नए मेडिकल कॉलेजों से अस्पतालों में बढ़ेंगे डॉक्टर

स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने शुक्रवार को विकास खंड खेसरहा के ग्राम पंचायत महुलानी में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का शिलान्यास किया। इस दौरान लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य केंद्र इस पिछड़े क्षेत्र के लोगों के लिए बहुत ही उपयोगी साबित होगा। प्रदेश व केंद्र सरकार ग्रामीण स्तर को ऊंचा उठाने के लिए अनेक जन कल्याणकारी योजना चला रही है।

उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति तक योजना का लाभ पहुंचाना सरकार का लक्ष्य है। केंद्र द्वारा संचालित आयुष्मान भारत योजना में गरीबों को गंभीर बीमारियों के लिए 5 लाख तक की मुफ्त इलाज की सुविधा सरकार दे रही है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश में 18 हजार डाक्टरों की आवश्यकता है। जबकि इस समय केवल 12 हजार डॉक्टर ही उपलब्ध हैं। डॉक्टरों की कमी पूरा करने के लिए सरकार प्रदेश में मेडिकल कालेज खोल रही है जिससे डॉक्टर की संख्या बढ़े। ग्रामीण स्तर के बने जच्चा बच्चा केंद्रों पर हेल्थ वेल्थ सेंटर खोले जा रहे हैं उसे हर सुविधा से लैस किया जा रहा है। जिससे ग्रामीण स्थानीय स्तर पर इलाज करा सकें। इन सेंटरों पर योग का भी प्रशिक्षण दिया जाएगा। लोग योग करें और स्वथ्य रहे। उन्होंने सरकार द्वारा चलाई जा रही स्वास्थ्य योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया। इस अवसर पर पूर्व प्रधानाचार्य नन्दलाल चौबे ने स्वास्थ्य मंत्री को ज्ञापन देकर सकारपार को नया ब्लॉक मुख्यालय बनाने की मांग की। इस दौरान सीएमओ डा. सीमा राय, कुंवर अभय प्रताप सिंह, डॉ. पीएन त्रिपाठी, डॉ. एसके भारती, केशभान राय, विजय कांत चतुर्वेदी, चंद्रिका मिश्र, अश्वनी पांडेय, वेंकटेश, मोनू चौबे, शिवाकांत पांडेय, घनश्याम मिश्र आदि मौजूद रहे।

संबंधित खबरें