ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशटीबी बीमारी खत्म करने का दावा, मरीज की तलाश में ब्लॉक फिसड्डी

टीबी बीमारी खत्म करने का दावा, मरीज की तलाश में ब्लॉक फिसड्डी

सिद्धार्थनगर। हिन्दुस्तान टीम स्वास्थ्य विभाग वर्ष 2025 तक जिले को टीबी मुक्त बनाने का...

टीबी बीमारी खत्म करने का दावा, मरीज की तलाश में ब्लॉक फिसड्डी
हिन्दुस्तान टीम,सिद्धार्थTue, 20 Feb 2024 05:00 PM
ऐप पर पढ़ें

सिद्धार्थनगर। हिन्दुस्तान टीम
स्वास्थ्य विभाग वर्ष 2025 तक जिले को टीबी मुक्त बनाने का दावा कर रहा है, लेकिन वर्ष 2023 में ब्लॉकों पर खोजे गए मरीजों के आंकड़े दावे पर पानी फेर रहे हैं। जिले के चार ब्लॉक मरीज तलाशने में फिसड्डी साबित हुए हैं। इन ब्लॉकों का हाल इस कदर है कि वर्ष 2023 में लक्ष्य के सापेक्ष 50 फीसदी मरीज भी नहीं तलाश सके हैं। इसमें सर्वाधिक हाल लोटन व जोगिया का खराब है।

दरअसल, पीएम ने वर्ष 2025 तक राष्ट्रीय क्षयरोग उन्मूलन कार्यक्रम के तहत टीबी के प्रत्येक मरीजों को स्वस्थ कर टीबी मुक्त देश बनाने की पहल की है। इसी पहल पर जिले का स्वास्थ्य महकमा काम कर रहा है। वर्ष 2023 में राज्य ने जिले को 5333 मरीजों की तलाश कर उपचार का लक्ष्य सौंपा था। लक्ष्य के सापेक्ष 4516 एक्टिव मरीज तलाश कर उपचार प्रारंभ किए गए, लेकिन मरीजों की तलाश में लोटन, जोगिया, भनवापुर व बढ़नी ब्लॉक फिसड्डी साबित हुए हैं। जिले ने ब्लॉकों को लक्ष्य सौंपकर वर्ष भर में मरीज तलाश करने का जिम्मा सौंपा था, बावजूद इन चारों ब्लॉकों में 50 फीसदी मरीज भी तलाश नहीं किए जा सके हैं। ब्लॉकों की यह लापरवाही वर्ष 2025 तक टीबी मुक्त जिला बनाने के दावे की पोल खोल रहे हैं। विभाग के लोगों का कहना है कि फिसड्डी ब्लॉकों पर अगर जिले से निगरानी नहीं बढ़ाई गई तो मरीज तलाश पाना संभव नहीं है।

चार ब्लॉकों का बेस्ट परफार्मेंस

वर्ष 2023 में टीबी मरीजों की तलाश में डीटीसी नौगढ़, शोहरतगढ़, बांसी व इटवा ब्लॉक का परफार्मेंस सभी 14 ब्लॉकों में सबसे बेस्ट है। इन ब्लॉकों ने 100 फीसदी लक्ष्य के सापेक्ष 109 से 219 फीसदी तक मरीज की तलाश किए हैं।

वर्ष 2025 तक गांव से लेकर जिले तक को टीबी मुक्त बनाने का निरंतर प्रयास जारी है। वर्तमान समय में ब्लॉकों को विशेष प्रशिक्षण देकर टीबी मुक्त ग्राम पंचायत बनाने पर जोर दिया गया है। वर्ष 2023 में चार ब्लॉक मरीज तलाशने में फिसड्डी साबित हुए हैं। फिसड्डी ब्लॉकों पर जिले से निगरानी बढ़ाई गई है।

डॉ. एमएम त्रिपाठी, जिला क्षयरोग अधिकारी

जिले में फिसड्डी ब्लॉक एक नजर में

ब्लॉक लक्ष्य मिले रोगी फीसदी

बढ़नी 366 117 47

भनवापुर 366 172 47

जोगिया 229 88 38

लोटन 175 57 33

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें