DA Image
26 फरवरी, 2020|1:13|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीएचसी-सीएचसी में भी होगा आयुष्मान लाभार्थियों का इलाज

पीएचसी-सीएचसी में भी होगा आयुष्मान लाभार्थियों का इलाज

ग्रामीण क्षेत्र के आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी अब गांव के नजदीकी स्वास्थ्य केंद्रों पर भी उपचार करा सकेंगे। जिले के चार सामुदायिक-प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (सीएचसी/पीएचसी) को आयुष्मान भारत योजना में शामिल किया गया है। इन चारों अस्पताल के आयुष्मान से जुड़ जाने के बाद अब जिले में आयुष्मान भारत योजना के तहत संबद्ध अस्पतालों की संख्या आठ हो गई है।

जिले में मल्टी स्पेशलिटी हास्पिटल का अभाव होने के नाते आयुष्मान भारत योजना के मानक को पूरा करने वाले सीएचसी-पीएचसी को भी इससे जोड़ा जा रहा है। योजना की जिला समन्वयक डॉ.लक्ष्मी सिंह ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र के लाभार्थियों की सुविधाओं को ध्यान में रखकर सीएचसी जोगिया, लोटन व उस्का बाजार के साथ पीएचसी खुनियांव को शामिल किया गया है। अब पांच सरकारी व तीन निजी अस्पताल योजना के तहत सूचीबद्ध हो चुके हैं।

हॉस्पिटल में मिलेगी सुविधा

आयुष्मान भारत योजना में शामिल चारों अस्पतालों में विभिन्न प्रकार के उपचार हो सकेंगे। सीएचसी उस्का बाजार में सामान्य मेडिकल उपचार, दांत रोग, बाल रोग, चेस्ट/छाती रोग के मरीज देखे जा सकेंगे। सीएचसी जोगिया व पीएचसी खुनियांव में सामान्य मेडिकल उपचार के साथ बाल रोग के मरीज देखे जाएंगे। जबकि सीएचसी लोटन में सामान्य मेडिकल उपचार किए जा सकेंगे।

टोल फ्री नंबर का प्रयोग करें

आयुष्मान योजना के ग्रीवांस मैनेजर (शिकायत) आकाश मिश्र ने बताया कि योजना के अंतर्गत कार्डधारकों को अगर उपचार कराने में किसी प्रकार की कोई दिक्कत आ रही है तो वो टोल फ्री नंबर 14555 पर कॉल कर सकते हैं। इस नंबर पर कॉल करने पर मरीज की समस्याओं का समाधान हो जाता है।

यहां ले सकते हैं लाभ-

- जिला अस्पताल

- सीएचसी उस्का बाजार

- सीएचसी लोटन

- सीएचसी जोगिया

- पीएचसी खुनियांव

- विनोद प्रकाश लाइफ केयर (मल्टी स्पेशलिटी एंड ट्रामा सेंटर)

- वात्सल्य हास्पिटल

- अमान हॉस्पिटल बढ़नी

जिले में आयुष्मान भारत योजना

- पीएम जन आरोग्य योजना- 129721 (परिवार)

- सीएम जन आरोग्य अभियान- 18646 (परिवार)

- बना गोल्डन कार्ड- 30590

- लाभार्थी मरीज- 409

- जिले में लाभार्थी मरीज- 200

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ayushman beneficiaries will also be treated in PHC-CHC