DA Image
27 अक्तूबर, 2020|2:51|IST

अगली स्टोरी

कोरोना पॉजेटिव को लेने पहुंची टीम हुई हंगामें की शिकार

default image

नगर के बुढाना रोड स्थित मौहल्ले इदिंरा कालोनी निवासी पोजेटिव को उपचार के लिए लेने गई स्वास्थ्य विभाग की टीम को महिला के विरोध के चलते काफी देर तक हंगामे का शिकार होना पडा। पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज करने की चेतावनी दी गई तो परिजन शांत हुए जिसके बाद समझा बुझाकर ही कोविड-19 अस्पताल जाने को तैयार हो सकी। मंगलवार को इदिरा कालोनी के हाटंस्पाट एरिया मे बेरिकेटिंग कर दी गई है।

कोरोना महामारी के संघर्ष के बीच भंयकर होती जा रही बीमारी को कुछ लोग हल्के मे रहे है। विरोध न किये जाने के सख्त निर्देशो के बावजूद नगर मे कभी तो हॉट स्पॉट एरिये मे मनमाफी बेरिकेटिंग करने का विरोध हो या कोरोना संकमित्र व्यक्ति उपचार के लिए ले जाने के समय का विरोध।

कही न कही प्रशासन सख्त कार्यवाही करके या चेतावनी देकर लोगो को समझाना पड रहा है। नगर के कई स्थानो पर इस तरह के विवाद हो चुके है। कई लोग होम क्वारंटीन किए गये है जो अपने को होशियार समझते हुए सडको पर घुमते हुए मिलने पर कार्यवाही का शिकार हो चुके है।सोमवार को प्रशासन को नगर के बुढाना रोड के दो अलग-अलग मौहल्ला निवासी दो महिलाओ की कोरोना पॉजेटिव होने की रिपोर्ट मिली।

महिलाओ को हल्की खासीं व हल्के बुखार के चलते रैडम सेंपल लिया गया था। प्रशासन के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग की दो टीमो ने काम करना चालू कर दिया। मिल बायोगैस प्लाटं के पास के मौहल्ले की महिला को तो कोविड-19 अस्पताल मे भर्ती करा दिया गया, लेकिन इंदिरा कालोनी निवासी महिला ने विरोध करते हुए अपने को कमरे मे बंद कर लिया। स्वास्थ्य विभाग की टीम के समझाये जाने के बावजूद महिला के न मानने पर आलाधिकारियो को अवगत कराया गया।

इस पर कोतवाली प्रभारी सत्यपाल सिंह फोर्स के साथ मौके पर पंहुचे और परिजनो सहित महिला के खिलाफ कडी कार्यवाही करने की चेतावनी देकर कार्यवाही शुरू कर दी। जिस पर परिजनो के हाथ पैर फूल गये और किसी प्रकार महिला को समझा कर स्वास्थ्य विभाग के हवाले कर दिया। परिजनो को होम क्वारंटीन के निर्देशो का पालन करने की हिदायत दी गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The team reached to pick up Corona Positive became a victim of uproar