DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बुखार से दो और पीड़ित बच्चों की मौत, संख्या पहुंची

शाहजहांपुर जिले में पिछले 24 घंटे के दौरान बुखार से पीड़ित दो और बच्चों की मौत हो गई। अब तक बुखार से मरने वालों की संख्या बारह हो गई है, लेकिन सरकारी आंकड़ों में बुखार से पीड़ित होकर अब तक किसी की मौत ही नहीं हुई है। स्वास्थ्य विभाग मौत के दूसरे कारण गिनाने पर लगा है। वह परिजनों को बरगला कर गलत बातें कहला कर वीडियो तक बना कर अफसरों को दे रहे हैं।

शाहजहांपुर महानगर के इंदिरानगर कालोनी निवासी कर्णवीर सिंह की छह साल की बेटी शगुन को कई दिन से बुखार था। उन्होंने शहर के प्राइवेट अस्पतालों में शगुन का इलाज कराया। डाक्टर ने यह तो बताया कि शगुन को बुखार है, लेकिन बुखार किस तरह का है, यह नहीं बताया। हालत बिगड़ने पर परिजन शगुन को बरेली लेकर गए, जहां सोमवार रात शगुन की मौत हो गर्ई। इसी तरह से सिंधौली के पनवाड़ी गांव के छोटे लल्ला के चार साल के बेटे अमन की मंगलवार दोपहर जिला अस्पताल की इमरजेंसी में मौत हो गर्ई। उसे कई दिनों से बुखार था। हालत बिगड़ने पर परिजन उसे जिला अस्पताल ले गए, लेकिन देर हो गर्ई थी। अमन भर्ती हो पाता, उससे पहले ही उसकी मौत हो गई। इसी तरह से स्वास्थ्य विभाग की टीम को कोटावारी गांव में बुखार से पीड़ित चार मरीज मिले हैं। भावलखेड़ा के कहेलिया गांव में चार संभावित डेंगू मरीज मिले हैं। उन्हें स्वास्थ्य टीम ने जिला अस्पताल भेजा है।

बबौरी गांव के तालाब में सड़ रहीं मछलियां, कई बीमार: सिंधौली। सिंधौली ब्लाक के बबौरी गांव के तालाब में किसी ने जहर मिला दिया, इस कारण कई दिन पहले हजारों मछलियां मर गईं और वह तालाब में सड़ रही हैं। इस कारण तालाब का पानी दूषित हो गया है। सड़ांध फैली हुई है। एएनएम संध्या मिश्रा ने अपने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर यह सूचना दी है। बताया कि है कि गांव में संक्रामक रोग फैल रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Two more children died of fever number reached 117