ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश शाहजहांपुरदिव्यांग बच्ची को कमरे में बंद कर चला गया बेहरम पिता

दिव्यांग बच्ची को कमरे में बंद कर चला गया बेहरम पिता

शहर के साहित्यपुरम कालोनी में दस साल की दिव्यांग बच्ची को मकान के कमरे में बंद कर बेहरम पिता चला...

दिव्यांग बच्ची को कमरे में बंद कर चला गया बेहरम पिता
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,शाहजहांपुरTue, 28 Sep 2021 03:41 AM
ऐप पर पढ़ें

शहर के साहित्यपुरम कालोनी में दस साल की दिव्यांग बच्ची को मकान के कमरे में बंद कर बेहरम पिता चला गया। कई घंटे तक बच्ची डरी-सहमी बैठी रही। शाम में बच्ची ने शोर मचाना और रोना शुरू किया तो मकान मालिक ने 112 नंबर पर कॉल कर पुलिस बुला ली।

पुलिस ने बच्ची को बरामद कर चाइल्ड लाइन को सौंप दिया।

थाना सदर बाजार की निगोही रोड पर स्थित साहित्यपुरम कालोनी में फौजी शर्मा अपनी पत्नी के साथ किराए के मकान में रहता था। दंपत्ति में आए दिन विवाद होता रहता था। उनकी दस साल की बच्ची एक पैर से दिव्यांग हैं। आए दिन लड़ाई झगड़े से तंग आकर फौजी शर्मा की पत्नी तीन दिन पहले घर छोड़कर चली गई। चाइल्ड लाइन के प्रभारी विनय शर्मा ने बताया कि सोमवार को फौजी शर्मा ने अपनी दस साल की दिव्यांग बेटी को कमरे के अंदर बंद कर दिया और अपना सामान समेट कर फरार हो गया। डरी-सहमी बच्ची कमरे में चुप बैठी रही। शाम करीब सात बजे अंधेरा होने पर उसने शोर मचाना शुरू कर दिया। रोने की आवाज सुनकर मकान मालिक आ गए। उन्होंने 112 पुलिस को सूचना दी। पड़ोसी चौकी के इंचार्ज भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने सबसे पहले ताला तोउ़कर बच्ची को बाहर निकाला। उसके बाद पुलिस ने फौजी शर्मा से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन उसका फोन बंद होने से संपर्क नहीं हो सका। पुलिस बच्ची को लेकर थाने आई और उसके बाद चाइल्ड लाइन टीम को फोन पर सूचना दी। चाइल्ड केयर टीम बच्ची को अपने साथ ले गई है। उसका मेडिकल कराया गया है। इंस्पेक्टर अशोकपाल ने बताया कि बरामद बच्ची को चाइल्ड केयर टीम को सौंप दिया है। माता-पिता से संपर्क करने का प्रयास चल रहा है।

epaper