DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुलशरीफ में दी सच्चाई के रास्ते पर चलने की नसीहत

कुलशरीफ में दी सच्चाई के रास्ते पर चलने की नसीहत

हजरत बाबा कलीम उल्लाह शाह रहमतुल्लाह अलैह के 30वें सालाना उर्स के कुल की महफिल में अकीदतमंदों का सैलाब उमड़ पड़ा। उलेमा ने मुसलमानों से इस्लामी तालीमात के मुताबिक नेक अमल करने और सच्चाई के रास्ते पर चलने की नसीहत दी। महफिल में मुल्क की खुशहाली और तरक्की के लिए दुआ की गई।

निसरजई जलालनगर में तीन दिवसीय उर्स में बुधवार सुबह नौ बजे कुल का आगाज तिलावते कुरआने पाक से हुआ। सज्जादानशीन हाजी पीर जाकिर अली मियां चिश्ती निजामी की सरपरस्ती में उर्स-कुल में आए अकीदतमंदों को शहर पेश इमाम मौलाना हुजूर अहमद मंजरी ने खिताब किया। उन्होंने कहा कि मुसलमान अल्लाह की रस्सी को मजबूती से पकड़ें। इस्लामी तालीमात को अपनाएं।

मुसलमानों को बहुत सब्र से काम लेने की जरूरत है। महफिल में शायर वकील अहमद वकील, रौनक मुसव्विर, जियाउद्दीन फैजी, तौसीफ रजा, अरशद कादरी, किश्वर अली, गुलाम गौस, हाफिज मोहम्मद यूसुफ आदि ने नात व मनकबत पेश की। शहर इमाम मंजरी ने मुल्क में अमनों-अमान और खुशहाली की दुआ की। इसके बाद महफिले रंग का आयोजन हुआ। जिसमें कव्वाल शाने आलम साबरी बिजनौर, फरीद अबरार मुरादाबाद, मासूम हसन साबरी, सलमान सुल्तानी ने सूफियाना कलाम पेश किया। कुल की महफिल में दरगाह ख्वाजा निजामुददीन औलिया दिल्ली के खादिम सैयद हम्माद निजामी, सैयद साजिद अली निजामी, मुम्बई से शेख आफताब मन्नान, जावेद अफसर शेख, महबूब खीरानी, उवैस खां, अजमल खां, जुनैद खां, हाजी इसरार अहमद, मौलाना निजामुद्दीन, हाफिज इनामुल्ला, जमील, मोहम्मद उवैस राजा, अनीस वारसी, नजीर खां, राशिद हुसैन, तनवीर कासमी, मौलाना आदिल रजा मौजूद रहे।

तीन दिवसीय उर्स में मुम्बई, दिल्ली, बहराइच, लखीमपुर, सुल्तानपुर, जबलपुर, बरेली, पीलीभीत आदि जनपदों से आए अकीदतमंदों ने पीर हाजी जाकिर निजामी से दुआ और इजाजत लेकर वतन वापसी शुरु कर दी। दरगाह निजामुद्दीन के सज्जादा को दी इजाजतशाहजहांपुर। दरगाह हजरत निजामुद्दीन औलिया दिल्ली के सज्जादा सैयद साजिद अली निजामी को हाजी पीर जाकिर अली मियां ने अपना खलीफा मुकर्रर करते हुए खिलाफत व इजाजत अता की। उन्होंने साजिद निजामी को सनद भी पेश की, साथ ही खलीफा के दायित्व भी बताए।नातिया किताब ताइरे मदीना का विमोचनशाहजहांपुर। अमेठी से आए शायर हाफिज अकील अहमद अकील के नातिया संग्रह ताइरे मदीना का पीर जाकिर अली निजामी, सज्जादा सैयद हम्माद निजामी, पीर शेख अब्दुल मन्नान निजामी ने विमोचन किया। उन्होंने शायर अकील को बधाई भी दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The truth of the path of truth in Kulasharif