DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सैटेलाइट से होगा सर्वे, कहां है नेटवर्क कमजोर

बीएसएनएल अपने नेटवर्क कहां कमजोर है, इसके लिए सैटेलाइट के माध्यम से सर्वे कराएगा। सर्वे के बाद जहां नेटवर्क नहीं मिल रहे है वहां टू जी स्पीड देने वाले बीटीएस लगाए जाएंगे। सर्वे का काम इसी महीने शुरू हो जाएगा। जिले भर में बीएसएनएल के 104 टावर है। इनमें 15 टावरों पर थ्री जी स्पीड देने वाला बीटीएस सिस्टम लगा है। बीएसएनएल के इतने टावर होने के बाद भी ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ताओं को नेटवर्क नहीं मिल पाते है। इसकी वजह से कालिंग के दौरान बीच में काल डिस्कनेक्ट की समस्या बनी रहती है। इस समस्या को दूर करने के लिए बीएसएनएल अफसरों ने कमजोर नेटवर्क वाले क्षेत्र में टावर लगाने का निर्णय लिया है। सभी स्थानों पर बीएसएनएल के नेटवर्क मिल सकें, इसके लिए टावर लगाने से पहले सर्वे का काम सैटेलाइट के माध्यम से किया जाएगा। सर्वे का काम दिल्ली से किया जाएगा। सर्वे पूरा होने के बाद टावर लगाने का काम शुरू किया जाएगा। टीडीएम वीपी यादव ने बताया कि जिन स्थानों पर नेटवर्क नहीं मिल रहे है। उन जगहों पर नए टावर लगवाए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Satellite will be surveyed, where is the network weak