Okay Rescue operation at 3 30 in the morning - सुबह साढ़े तीन बजे ओके हुआ रेस्क्यू आपरेशन DA Image
15 दिसंबर, 2019|6:42|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुबह साढ़े तीन बजे ओके हुआ रेस्क्यू आपरेशन

सुबह साढ़े तीन बजे ओके हुआ रेस्क्यू आपरेशन

1 / 3शाहजहांपुर के दून इंटरनेशनल स्कूल में रविवार को लिंटर गिरने से हुए हादसे में बचाव के लिए तीन टीमें आई थीं। इन टीमों ने पूरी रात स्कूल के हादसे वाले स्थान पर खोजबीन की। इस दौरान उन्हें कोई भी व्यक्ति...

सुबह साढ़े तीन बजे ओके हुआ रेस्क्यू आपरेशन

2 / 3शाहजहांपुर के दून इंटरनेशनल स्कूल में रविवार को लिंटर गिरने से हुए हादसे में बचाव के लिए तीन टीमें आई थीं। इन टीमों ने पूरी रात स्कूल के हादसे वाले स्थान पर खोजबीन की। इस दौरान उन्हें कोई भी व्यक्ति...

सुबह साढ़े तीन बजे ओके हुआ रेस्क्यू आपरेशन

3 / 3शाहजहांपुर के दून इंटरनेशनल स्कूल में रविवार को लिंटर गिरने से हुए हादसे में बचाव के लिए तीन टीमें आई थीं। इन टीमों ने पूरी रात स्कूल के हादसे वाले स्थान पर खोजबीन की। इस दौरान उन्हें कोई भी व्यक्ति...

PreviousNext

शाहजहांपुर के दून इंटरनेशनल स्कूल में रविवार को लिंटर गिरने से हुए हादसे में बचाव के लिए तीन टीमें आई थीं। इन टीमों ने पूरी रात स्कूल के हादसे वाले स्थान पर खोजबीन की। इस दौरान उन्हें कोई भी व्यक्ति दबा हुआ नहीं मिला। तब सोमवार सुबह करीब साढ़े तीन बजे रेस्क्यू आपरेशन समाप्त किया गया।

लिंटर का झूला काफी बड़ा था। उसमें लोहे का जाल और बल्लियां थीं, जिनके नीचे लोग दबे हुए थे, जिन्हें लोगों ने काफी मशक्कत के बाद निकाल लिया था, लेकिन अन्य लोगों के दबे होने की संभावना थी। लोहे के जाल को हटाना संभव नहीं हो पा रहा था, इसलिए जिला प्रशासन ने बचाव दल बुलाए। सबसे पहले सोमवार रात करीब नौ बजे एफडीआरएफ की टीम हादसा स्थल पर पहुंची। टीम के सदस्यों ने सबसे पहले उजाला करने के लिए कुछ उपकरणों को इस्तेमाल किया, जिससे हादसास्थल पर दिन जैसा उजाला हो गया। इसके बाद एक के बाद एक एनडीआरएफ और आईटीबीपी का बचाव दल भी वहां आ गया। पूरा नक्शा देखने के बाद टीमों ने बचाव कार्य शुरू किया। टीमों के साथ खोजी कुत्ते भी थे। उसमें से एक कुत्ते ने हादसा स्थल पर कोने में तीन बार अपने पंजे मारे, जिससे लगा कि नीचे कोई हो सकता है, लेकिन जब मलबा हटाया गया तो वहां कोई नहीं था। पूरे हादसा स्थल की तीनों टीमों ने बारिकी से जांच की, लेकिन नीचे दबा हुआ कोई भी व्यक्ति नहीं मिला। बताया जाता है कि एनडीआरएफ के डिप्टी कमांडेंट ने सुबह साढ़े तीन बजे आपरेशन समाप्ति की घोषणा की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Okay Rescue operation at 3 30 in the morning