DA Image
19 जनवरी, 2020|10:24|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कलक्ट्रेट परिसर में जगह-जगह कूड़े का ढेर

कलक्ट्रेट परिसर में जगह-जगह कूड़े का ढेर

1 / 3सरकार द्वारा स्वच्छता को लेकर तमाम दावे किये जाते हैं, लेकिन उन्हीं के जिम्मेदार कहे जाने वाले आधिकारियों की उदासीनता के चलते शाहजहांपुर कलक्ट्रेट परिसर की सफाई व्यवस्था धड़ाम हो गई है। जगह जगह कूड़े...

कलक्ट्रेट परिसर में जगह-जगह कूड़े का ढेर

2 / 3सरकार द्वारा स्वच्छता को लेकर तमाम दावे किये जाते हैं, लेकिन उन्हीं के जिम्मेदार कहे जाने वाले आधिकारियों की उदासीनता के चलते शाहजहांपुर कलक्ट्रेट परिसर की सफाई व्यवस्था धड़ाम हो गई है। जगह जगह कूड़े...

कलक्ट्रेट परिसर में जगह-जगह कूड़े का ढेर

3 / 3सरकार द्वारा स्वच्छता को लेकर तमाम दावे किये जाते हैं, लेकिन उन्हीं के जिम्मेदार कहे जाने वाले आधिकारियों की उदासीनता के चलते शाहजहांपुर कलक्ट्रेट परिसर की सफाई व्यवस्था धड़ाम हो गई है। जगह जगह कूड़े...

PreviousNext

सरकार द्वारा स्वच्छता को लेकर तमाम दावे किये जाते हैं, लेकिन उन्हीं के जिम्मेदार कहे जाने वाले आधिकारियों की उदासीनता के चलते शाहजहांपुर कलक्ट्रेट परिसर की सफाई व्यवस्था धड़ाम हो गई है। जगह जगह कूड़े का ढेर लगे हैं।

स्वच्छता अभियान की अलख जलाने वाले कलक्ट्रेट भवन खुद ही गंदगी की मार झेल रहा है। चारों तरफ कूड़े का अंबार लगा हुआ है, जिससे लगता है कि स्वच्छ भारत अभियान की जिम्मेदारी लेने वाले अधिकारियों ने अपना ध्यान हटा लिया है, जिससे सरकार के स्वच्छता को लेकर किये जा रहे दावों पर पानी फिरता नजर आ रहा है, जिसका नजारा कलक्ट्रेट गेट पर लगे कूड़ेदान में कूड़ा भर जाने से गेट पर फैला पड़ा हुआ।

जिला पंचायत कार्यालय के बाहर रखें कूडेदान में एक सप्ताह से कूड़ा भरा पड़ा हुआ है। डीएम कार्यालय से चंद कदमों की दूरी पर सरकारी चालकों के भवन के बाहर गंदगी फैली पड़ी को देखने से मिल जाएगा। गौर करने वाली बात तो यह है कि जिस जगह पर कूड़ा, गंदगी व्याप्त है। उसी रास्ते से रोजाना डीएम व अन्य अधिकारियों का आना होता है, लेकिन किसी भी अधिकारी द्वारा कलक्ट्रेट में व्याप्त गंदगी की ओर ध्यान नहीं जा रहा है। जिससे आने वाले फरियादियों को गंदगी का सामना करना पड़ रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Litter of garbage in Collectorate premises