In Sagging sisters one should be hanged In Sagging sisters one should be hanged - सगी बहनों में कहासुनी, एक ने फंदा लगाकर दी जान DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सगी बहनों में कहासुनी, एक ने फंदा लगाकर दी जान

सगी बहनों में कहासुनी, एक ने फंदा लगाकर दी जान

1 / 2शहर की सुभाषनगर कॉलोनी के एक मकान में एक ही परिवार में ब्याही दो सगी बहनों के बीच सोमवार को किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इसके बाद बड़ी बहन ने कमरे में पंखे से फंदा लगाकर जान दे दी। अंदर से दरवाजा न...

सगी बहनों में कहासुनी, एक ने फंदा लगाकर दी जान

2 / 2शहर की सुभाषनगर कॉलोनी के एक मकान में एक ही परिवार में ब्याही दो सगी बहनों के बीच सोमवार को किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इसके बाद बड़ी बहन ने कमरे में पंखे से फंदा लगाकर जान दे दी। अंदर से दरवाजा न...

PreviousNext

शहर की सुभाषनगर कॉलोनी के एक मकान में एक ही परिवार में ब्याही दो सगी बहनों के बीच सोमवार को किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इसके बाद बड़ी बहन ने कमरे में पंखे से फंदा लगाकर जान दे दी। अंदर से दरवाजा न खुलने पर घटना की जानकारी हुई। पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने दूसरे कमरे की दीवार तोड़ी और अंदर घुसकर दरवाजा खोला। तब महिला के शव को फंदे से उतारा और पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

थाना सदर बाजार क्षेत्र की सुभाष नगर कॉलोनी निवासी राजेश आयुष्मान अस्पताल में ड्राइवरी करता है। राजेश की पत्नी सविता (32) ने दो माह पूर्व अपनी छोटी बहन शिवानी की शादी अपने देवर दीपक से कराई थी। शादी के बाद कुछ दिन बाद ही दोनों बहनों के बीच कहासुनी होने लगी।

सोमवार को भी सविता की उसकी बहन से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इससे नाराज सविता कमरे में गई और कुंडी लगाकर पंखे में साड़ी का फंदा डाल जान दे दी। दरवाजा खटखटाने पर जब सविता ने कोई जबाव नहीं दिया, तब शिवानी ने सीढ़ी लगाकर रोशनदान से अंदर झांका। देखा तो सविता फंदे पर झूल रही थी। चीख-पुकार मचने पर लोगों की भीड़ लग गई। पुलिस को सूचना दी गई। अशफाक नगर चौकी इंचार्ज अमर सिंह अपनी टीम के साथ मौके पर गए। दरवाजा न खुलने पर दूसरे कमरे की दीवार तोड़ी, फिर कमरे में प्रवेश कर कुंडी खुलवाई।

पत्नी की लाश से लिपटकर फूट-फूटकर रोया पति

शहर की सुभाष नगर कॉलोनी की सविता ने सोमवार दोपहर कमरे में फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। जानकारी होने पर काम से लौटकर आया पति राजेश जमीन पर पड़े पत्नी के शव से लिपटकर खूब रोया। बोला: इतना गुस्सा, जरा बच्चों का ही सोंच लेती। तुम तो छोड़ चली गईं। अब किसके सहारे जिंदगी काटेंगे। राजेश की इन बातों को सुनकर घर पर मौजूद लोगों की आंख भर आई।

पत्नी ने फोन किया था, बोली थी किराए पर रहेंगे

राजेश के अनुसार उसकी शादी बाराबंकी की सविता से करीब 18 वर्ष पूर्व हुई थी। बेटे विशाल की उम्र 15 और निहाल की उम्र 12 वर्ष है। पत्नी और बच्चों के साथ खुश था। पत्नी सविता ने अपनी बहन की शादी मेरे भाई से करा दी थी। तीन-चार दिनों से पत्नी और उसकी बहन के बीच कहासुनी हो रही थी। बहुत समझाया, लेकिन नहीं माने। आज पत्नी ने पौने दस बजे फोन किया। किराए पर रहने की बात कही। इसके बाद भाई से संपर्क करने की कोशिश की। थोड़ी देर बाद पत्नी की मौत की सूचना मिली। राजेश ने बताया कि लोगों से लिया उधारी का रुपया भी लौटाना था।

रोज-रोज की लड़ाई से तंग आ गई थी सविता

सविता रोज-रोज की लड़ाई से तंग आ गई थी। इसलिए सविता ने इस कदम को उठाया और अपनी जीवन लीला को समाप्त कर लिया। सविता की लाश को देख उसके परिवार वाले की नहीं, बल्कि कालोनी के हर सख्श की आंख भर आई। देररात घर आए उसके मायके वालों का शव को देख रो-रोकर हाल बेहाल हो गया।

जिंदगी जोखिम में न डालें

तनाव एक ऐसी मानसिक हालत है, जिसमें पॉजिटिव सोचने और बेहतर रिजल्ट तक पहुंचने की व्यक्ति की क्षमता कम हो जाती है। इसलिए ज्यादातर व्यक्ति ऐसी हालत में अपनी जान देने की कोशिश करते हैं। इसलिए व्यक्ति को तनाव मुक्त रहने की जरुरत है। परेशानी को बताने की जरुरत है। ताकि उसका कोई हल निकाला जा सके।

वर्ष 2019 की घटनाएं

आठ जनवरी को निगोही के एक युवक ने जहर खाकर जान दे दी थी।

आठ जनवरी को ही एक महिला ने फांसी लगाकर अपनी जान दी थी।

आठ जनवरी को बंडा के ताजपुर गांव के अरविंद को डिप्रेशन में हार्ट अटैक पड़ा।

छह जनवरी को बंडा के सिकंदरपुर गांव की महिला ने जहर खाकर जान दी थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: In Sagging sisters one should be hanged In Sagging sisters one should be hanged