DA Image
18 जनवरी, 2021|12:51|IST

अगली स्टोरी

किसान आंदोलन : किसानों ने जाम किया लखनऊ-दिल्ली हाईवे, चार घंटे तक लगा जाम 

farmers blocked the lucknow-delhi highway jammed for four hours in shahjahanpur

सरकार द्वारा पास गए अध्यादेश को किसान विरोधी करार देते हुए शुक्रवार को शाहजहांपुर में लखनऊ-दिल्ली हाईवे पर जाम लगा दिया गया।  भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के मंडल अध्यक्ष सरदार अजीत सिंह की अगुवाई में शुक्रवार को शाहजहांपुर में हाईवे पर लगाए गए जाम के कारण कई किलोमीटर तक वाहनों की लंबी लाइन लग गई। छोटे वाहनों को रूट डायवर्ट कर निकाला गया लेकिन बड़े वाहनों में फंसे लोग परेशान होते रहे। 

भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के मंडल अध्यक्ष सरदार अजीत सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार जो तीन अध्याधेश लाई है, वह तीनों ही किसान विरोधी हैं। अध्यादेश किसान मानने को तैयार नहीं हैं, इसलिए अध्यादेश रद किया जाए। अजीत सिंह ने कहा कि किसानों का धान औने पौने दामों में खरीदा जा रहा है, यह किसानों के साथ अन्याय है। मांग की कि किसानों का धान सरकारी रेट पर ही खरीदा जाए। यूनियन के मंडल अध्यक्ष ने कहा कि बिजली विभाग बिल वसूली के नाम पर छोटे गरीब किसानों का उत्पीड़न रहा है, इसलिए इस पर अंकुश लगाया जाए।

किसान नेता ने कहा कि साधारण किसान का न तो कनेक्शन काटा जाए और न ही कुर्की की जाए, कहा कि जब तक किसानों के गन्ना मूल्य भुगतान नहीं हो जाता, तब तक उससे किसी प्रकार की वसूली न की जाए। ज्ञापन के दौरान कहा गया कि तिलहर में पूर्व में हुए रेल रोको आंदोलन के दौरान कार्यकर्ताओं पर मुकदमा दर्ज किया गया था, अब उन कार्यकर्ताओं पर पुलिस और आरपीएफ उत्पीड़नात्मक कार्रवाई कर रही है, उसे रोका जाए। करीब चार घंटे तक हाईवे जाम रहा। इसके बाद प्रशासनिक अधिकारी ने किसान यूनियन के नेताओं से ज्ञापन लिया। फिर जाम खुल सका। इस दौरान राम प्रताप वर्मा, हरविंदर सिंह, संजीव अवस्थी, रामपाल प्रजापति, महिला कार्यकर्ता आदि बड़ी संख्या में किसान मौजूद रहे।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Farmers blocked the Lucknow-Delhi highway jammed for four hours in shahjahanpur