Dua In Myanmar To Protect Muslims In Urs - उर्स में म्यांमार के मुसलमानों की हिफाजत के लिए दुआ DA Image
12 दिसंबर, 2019|4:44|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उर्स में म्यांमार के मुसलमानों की हिफाजत के लिए दुआ

शाहजहांपुर के मोहल्ला हाथीथान में हजरत हाफिज मियां रहमतुल्लाह अलैह के तीन दिवसीय उर्स का समापन हो गया। शनिवार को अंतिम दिन कुलशरीफ में म्यांमार के मुसलमानों के लिए अल्लाह से दुआ की गई। शनिवार सुबह कुरआनख्वानी का आयोजन किया गया। उसके बाद सुबह दस बजे कुलशरीफ की महफिल सजाई गई। दरगाह के अंदर और बाहर अकीदतमंदों की भीड़ उमड़ पड़ी। कुलशरीफ का आगाज नात-ए-पाक से किया गया। उलमा-ए-कराम ने कुरआन पाक की तिलावत की। शहर पेश इमाम मौलाना हुजूर अहमद मंजरी ने म्यांमार के मुसलमानों की हिफाजत के लिए दुआ की। इस दौरान मुल्क में अमनों-अमान के लिए बारगाह में हाथ उठे। सभी ने आमीन की सदाओं को बुलंद किया। इस मौके पर हाफिज फिरासत, हाफिज रियासत, सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां, जुग्गन खां आदि मौजूद रहे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dua In Myanmar To Protect Muslims In Urs