DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीमारी से तंग ग्रामीण ने फंदा लगाकर जान दी

बीमारी से तंग ग्रामीण ने फंदा लगाकर जान दी

तिलहर के सिउरा व पिपरौली गांव के मध्य एक आम के पेड़ से फंदा लगाकर रीतपाल ने अपनी जान दे दी। परिवार वालों के अनुसार रीतपाल बीमार चल रहा था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। क्षेत्र के सिउरा गांव निवासी रीतपाल (45) पिछले कई साल से बीमार चल रहा था।

उसका बरेली के एक निजी अस्पताल से इलाज चल रहा था। परिजनों के अनुसार सोमवार रात परिवार के सभी सदस्य खाना खाकर सो गए। रात किसी समय रीतपाल उठा और घर से निकल गया। करीब दो-ढाई बजे के बीच परिवार के एक सदस्य की आंख खुली। देखा कि रीतपाल चारपाई पर नहीं था। इसके बाद परिवार वालों ने उसकी तलाश शुरू की, लेकिन वह नहीं मिला।

मंगलवार सुबह खेत पर गए ग्रामीणों ने उसकी लाश आम के पेड़ से लटकी देखी। उसकी मौत की खबर से गांव में मातम छा गया। ग्रामीणों की भीड़ लग गई। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेजा। मृतक की पत्नी विमला, उसका बेटा और बेटियां बेसुध हो गईं। मां भगवती सदमे में आ गई। परिजनों ने बताया कि मृतक रीतपाल तीन भाइयों में दूसरे नंबर पर था। करीब 15 साल से उसका इलाज चल रहा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Disease-aggrieved villagers gave life