DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › शाहजहांपुर › उम्र निकल जाने के बाद स्पोर्ट कोटे से सेना भर्ती के नाम पर हो रही थी ठगी
शाहजहांपुर

उम्र निकल जाने के बाद स्पोर्ट कोटे से सेना भर्ती के नाम पर हो रही थी ठगी

हिन्दुस्तान टीम,शाहजहांपुरPublished By: Newswrap
Thu, 08 Jul 2021 03:31 AM
उम्र निकल जाने के बाद स्पोर्ट कोटे से सेना भर्ती के नाम पर हो रही थी ठगी

मध्यप्रदेश के भिंड जिले का अभिषेक सेना भर्ती के नाम पर ठगी गिरोह का सरगना है। अभिषेक ने ग्वालियर में स्पोर्ट एंड गेम फेडरेशन का लग्जरी आफिस खोल रखा है। राष्ट्रीय खेलों के प्रमाण पत्र फर्जी तरीके से जारी करता था। लाखों रुपया हड़प जाता था। शाहजहांपुर और पीलीभीत के करीब 25 युवाओं से अभिषेक कई लाख रुपया हड़प चुका है। पुलिस की पकड़ में अभिषेक नहीं आया, केवल मोहरे ही पकड़ी जा सकी। बड़ी संख्या में कागजात भी बरामद हुए हैं।

सरगना का ग्वालियर में है आफिस

= अभियुक्त प्रभात की बुआ का बेटा सरगना अभिषेक निवासी ग्राम सुल्तान सिंह का पूरा थाना उमरी जिला भिण्ड मध्य प्रदेश ने ग्वालियर में स्पोर्ट एण्ड गेम फेडरेशन का आफिस बना रखा है। जहां से नेश्नल स्तर केे स्पोर्ट सर्टिफिकेट तैयार कराता है। आयु निकल जाने के बाद स्पोर्ट कोटे से सेना में भर्ती कराने के नाम पर लोगों से मोटी रकम लेकर ठगी करता है। प्रभात को इस काम में अपने साथ मिलाकर पीलीभीत एवं शाहजहांपुर से बेरोजगार नवयुवको को फंसा कर पैसा ऐठा जाता है।

तीन से छह लाख तक करते वसूली

= प्रभात ने यहां पर अपने तहेरे भाई शैलेन्द्र, प्रवीन यादव, भूपेन्द्र सिंह, अभिषेक को जोड़कर क्षेत्र से काफी बेरोजगार नवयुवकों से तीन से छह लाख तक वसूली की। प्रति कैंडिडेट तीन लाख के हिसाब से अभिषेक को ग्वालियर भेजा गया। जिन लोगों से पैसा लिया गया। उन्हे भर्ती के नाम पर कई गाड़ियों द्वारा ग्वालियर ले जाकर होटल के कमरों में ठहराया।

रुपया लेने पर कराई जाती फर्जी माप

= रुपया लेने के बाद लोगों को ग्वालियर भेजा जाता। वहां किसी स्कूल के ग्राउंड में उनकी फर्जी माप जोख कराई गई। फिर उन्हे एकदम यह कहकर कि हमारे बारे में पुलिस को पता चल गया है। कहीं पकड़े न जाए यहां से भाग जाओ और उन्हे रातो रात वहां से उनके घर भेज दिया जाता है। फिर वह लोग फोन करते हैं तो टालमटोल कर उनके द्वारा दिए गए रुपयों को हड़प लिया जाता है।

रांची से भी जुड़े हो सकते हैैं तार

= एसपी एस आनंद ने बताया कि सरगना अभिषेक की तलाश में टीम गई हुई है। गिरोह के तार रांची से भी जुड़े हो सकते हैं। पता लगाया जा रहा है। अब तक सेना में किसी के भर्ती होने की बात सामने नहीं आई। पता लगाया जा रहा है। एसपी एस आनंद ने लोगों से अपील की। उन्होंने कहा कि बिना मेहनत नौकरी असंभव है। मेहनत और काबलियत के बल पर नौकरी को पाएं। किसी के झांसे में न आए। सही-गलत की पहचान करें।

संबंधित खबरें