ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश शाहजहांपुरअपनों की आंचल के छांव में सुबक पड़े 16 नाबालिग

अपनों की आंचल के छांव में सुबक पड़े 16 नाबालिग

अवध-आसाम एक्सप्रेस से गुरुवार को बाल मजदूरी के शक में उतारे गए 16 नाबालिगों को अपनों की छांव नसीब हो...

अपनों की आंचल के छांव में सुबक पड़े 16 नाबालिग
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,शाहजहांपुरTue, 14 Sep 2021 11:00 PM
ऐप पर पढ़ें

अवध-आसाम एक्सप्रेस से गुरुवार को बाल मजदूरी के शक में उतारे गए 16 नाबालिगों को अपनों की छांव नसीब हो गई। कई दिन तक बाल सुधार गृह में कटे। मंगलवार को परिजनों ने बाल कल्याण समिति के सामने सारे पुख्ता सुबूत पेश किए। जिसके बाद समिति ने नाबालिगों को परिजनों को सौंपने के आदेश दे दिए।

बिहार प्रदेश के पुरनिया जिले के अलग-अलग गांवों के 18 बालकों को दस लोग पंजाब ले जा रहे थे। नाबालिगों के सभी अपने रिश्तेदार थे। गुरुवार को किसी ने चाइल्ड लाइन पर बाल मजदूरी कराने के लिए बालकों को ले जाने की सूचना दे दी थी। जिसके बाद उन्हें यहां उतार लिया गया था। चाइल्ड लाइन के प्रभारी विनय शर्मा ने मेडिकल कराने के बाद उन्हें बाल सुधार गृह भेजा। बाल कल्याण समिति ने बच्चों की रिहाई में अहम रोल अदा किया। समिति के अध्यक्ष डा.अमितेश अमित ने बताया कि सोमवार को दो बालकों के परिजनों ने सुबूत पेश किए तो उन्हें रिहा कर दिया। मंगलवार को 16 बालकों के परिजनों ने बाल कल्याण समिति के सामने पेश होकर बच्चों के बारे में सारे तथ्य प्रस्तुत किए। जिसके बाद बाल सुधार गृह से उन्हें परिजनों के सुपुर्द करने के आदेश दिए गए हैं।

epaper