ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश शाहजहांपुर15 बाल श्रमिक मिले, परिजनों ने जाम लगाया

15 बाल श्रमिक मिले, परिजनों ने जाम लगाया

श्रम विभाग के अधिकारियों ने मूंगफली के दो कारखानों में छापेमारी की। इस दौरान बारह से अधिक बाल श्रमिकों को रेस्क्यू...

15 बाल श्रमिक मिले, परिजनों ने जाम लगाया
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,शाहजहांपुरWed, 18 Aug 2021 03:51 AM
ऐप पर पढ़ें

श्रम विभाग के अधिकारियों ने मूंगफली के दो कारखानों में छापेमारी की। इस दौरान बारह से अधिक बाल श्रमिकों को रेस्क्यू किया। वहीं, बाल श्रमिकों के परिजनों ने बंच्चो को साथ लिए जाने पर आक्रोशित हो हाईवे पर जाम लगा दिया। रेस्क्यू किये गए बच्चों के परिजनों के साथ महिलाओं ने भी जाम लगाकर आक्रोश दिखाया। थानाध्यक्ष प्रदीप सिंह ने बच्चों के परिजनों को समझाबुझाकर जाम से वाहनों को निजात दिलाई।

शासन द्वारा प्रदेश में बाल श्रम पर अंकुश लगाए जाने को लेकर अभियान चलाया जा रहा है। शासन के निर्देश पर श्रम विभाग व चाइल्ड लाइन की टीम ने अभियान के तहत मंगलवार दोपहर मूंगफली कारखानों पर छापेमारी की, जिसमें 15 बाल मजदूरी कर रहे बच्चों को रेस्क्यू किया गया। श्रम प्रवर्तन अधिकारी घनश्याम वर्मा ने बताया कि शासन के निर्देश व आईजीआरएस के माध्यम से मिली शिकायतों के आधार पर नगर में संचालित मूंगफली के दो कारखानों पर काम करते बाल श्रमिकों को रेस्क्यू किया गया, वहीं कार्रवाई की सूचना मिलते ही अन्य कारखानों पर तालाबंदी हो गई। उन्होंने बताया कि ओम ट्रेडर्स व रामफेरे के कारखानों पर बाल श्रमिकों को एएचटीयू प्रभारी इंद्रकुमार सिंह व चाइल्ड लाइन की टीम के साथ रेस्क्यू किया गया। रेस्क्यू किये गए बच्चों को चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा व मेडिकल कराकर बच्चों को परिजनों को सौंप दिया जाएगा।

वहीं, कारखाना संचालित करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। श्रम विभाग व एन्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम के संयुक्त छापेमारी से बाल श्रम कानून का उल्लंघन करने वाले कारखानों में हड़कम्प मच गया। वहीं होटलों व अन्य कारखानों में बाल श्रम से जुड़े व बच्चे फरार हो गए।

epaper