DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  संतकबीरनगर  ›  उत्पादका बढ़ाने के लिए हुई गोष्ठी

संतकबीरनगरउत्पादका बढ़ाने के लिए हुई गोष्ठी

हिन्दुस्तान टीम,संतकबीरनगरPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 04:51 AM
उत्पादका बढ़ाने के लिए हुई गोष्ठी

संतकबीरनगर। निज संवाददाता

रविवार को शासन ने वीसी के माध्यम से राज्य स्तरीय खरीफ उत्पादकता गोष्ठी का आयोजन कर किसानों के हित में कार्य किए जाने के निर्देश दिए। जनपद में मुख्य विकास अधिकारी अतुल मिश्र के साथ कृषि अधिकारी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़कर शासन के निर्देशों से अवगत हुए। खरीफ 2021 में फसलों के उत्पादन हेतु कृषि निवेश यथा बीज, उर्वरक, कृषि रक्षा रसायन, नलकूप संचालन, नहरों में पानी, पशुओं को टीकाकरण, पशुपालन, उद्यान, कृषि, मत्स्य , दुग्ध विकास विभाग की संचालित योजनाओं एवं जनपद में उपस्थित किसानों से संबंधित समस्याओं के समाधान के लिए निर्देश दिया गया।

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही एवं कृषि राज्य मंत्री लाखन सिंह राजपूत ने सभी को जरूरी निर्देश दिए। कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने अपने संबोधन में कहा कि उत्तर प्रदेश राज्य पूरे देश में खाद्यान्न उत्पादन में अग्रणी है । विगत चार वर्षों में धान , गेहूं, तिलहन ,दलहन के उत्पादन में अप्रत्याशित वृद्धि हुई है, जिससे किसानों को आर्थिक रूप से लाभ हुआ है, साथ ही वर्तमान वर्ष में गेहूं खरीद लक्ष्य से अधिक हो चुकी है। किसानों के हित के लिए वर्तमान यूपी एवं केंद्र सरकार हर संभव प्रयास कर रही है, उनके हितों से किसी प्रकार से समझौता नहीं किया जाएगा। राज्य स्तर से प्रमुख सचिव पशुपालन भुवनेश कुमार ने पशुओं में टीकाकरण एवं गौशालाओं को नियमित रूप से देखभाल एवं आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने के निर्देश दिए। कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा ने अपने संबोधन में कहा कि समेकित खेती पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है, जनपद की कार्य योजना जनपद की आवश्यकता के अनुरूप बने तो किसानों को अधिक लाभ होगा । अपर मुख्य सचिव (कृषि) देवेश चतुर्वेदी ने कहा कि जनपद के सभी जनपदों में बीज ,उर्वरक ,कीटनाशक रसायनों की पर्याप्त व्यवस्था करा दी गई है। समय-समय पर कृषि विभाग के अधिकारी सुनिश्चित करें कि किसानों को गुणवत्ता युक्त उर्वरक, बीज, कृषि रसायन प्राप्त हो सके साथ ही किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड को प्राप्त करने में विभाग के अधिकारी सहयोग करें । इस अवसर पर जनपद एनआईसी में मुख्य विकास अधिकारी अतुल मिश्र, उप कृषि निदेशक लोकेंद्र सिंह, जिला कृषि अधिकारी पी सी विश्वकर्मा, कृषि विज्ञान केंद्र बगही के प्रधान वैज्ञानिक अरविंद कुमार सिंह, प्रगतिशील कृषक सुरेंद्र राय उपस्थित रहे।

संबंधित खबरें