ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश संतकबीरनगरआपत्ति करने वाले विद्यालयों की जांच करेंगे एसडीएम

आपत्ति करने वाले विद्यालयों की जांच करेंगे एसडीएम

हिन्दुस्तान टीम, संतकबीरनगर। संतकबीरनगर जिले में यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा...

आपत्ति करने वाले विद्यालयों की जांच करेंगे एसडीएम
हिन्दुस्तान टीम,संतकबीरनगरMon, 04 Dec 2023 11:30 AM
ऐप पर पढ़ें

हिन्दुस्तान टीम, संतकबीरनगर।
संतकबीरनगर जिले में यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए बोर्ड ने इस बार 92 केन्द्रों की सूची जारी की है। इसमें करीब दो दर्जन विद्यालय ऐसे रहे जो पहली बार परीक्षा केन्द्र बने हैं। वहीं कई पुराने विद्यालयों को इस बार परीक्षा केन्द्र की सूची से बाहर कर दिया गया। सूची जारी होने के साथ आपत्ति दर्ज कराने का दौर शुरू हो गया। इसके अलावा कुछ केन्द्रों के प्रबंधकों और प्रधानध्यापकों ने जनप्रतिनिधियों से पैरवी भी कराई है। बोर्ड ने 30 नवम्बर तक आपत्ति दर्ज कराने की अंतिम तिथि निर्धारित की थी। इस बीच कुल 88 आपत्तियां विभाग को प्राप्त हुई हैं। इसका निस्तारण जनपदीय कमेटी द्वारा किया जाएगा।

डीआईओएस कार्यालय के साथ ही ऑनलाइन, डीएम, सीडीओ और एडीएम के कार्यालय में आपत्ति विद्यालयों के प्रबंधकों और प्रधानाचार्यों ने दर्ज कराया है। कई ने मौखिक पैरवी कराई है तो कुछ के लिए जनप्रतिनिधियों ने अपने पैड पर पत्र लिखा है। डीआईओएस कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार ऑनलाइन 88 आपत्तियां प्राप्त हुई हैं। इसमें दर्जन भर विद्यालय ऐसे हैं जिन्होंने अपना केन्द्र की सूची से नाम लटाने की मांग किया है। शेष ने केन्द्र बनाने की मांग की है। इसमें कुछ केन्द्रों के जिम्मेदारों ने अधिक दूर सेंटर भेजे जाने की शिकायत किया है। वहीं कुछ ने मानक पूरा होने के बावजूद परीक्षा केन्द्र न बनाए जाने का आरोप लगाया है। इसके अलावा सांसद और विधायकों ने भी केन्द्र के लिए पत्र लिया है। जिले के जनप्रतिनिधियों ने कुल 12 केन्द्र बनाने के लिए पत्र दिए हैं। सभी आपत्ति का निस्तारण डीएम की अध्यक्षता में गठित कमेटी करेगी। इसके लिए जल्द ही कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक आयोजित की जाएगी। बैठक में एक-एक आपत्ति पर विचार करने के साथ ही संबंधित एसडीएम को तहसीलवार सूची प्रेषित की जाएगी। एसडीएम प्रत्येक केन्द्र की जांच कराने के बाद रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे, उसके बाद आपत्तियों का निस्तारण किया जाएगा।

डीआईओएस संदीप चौधरी ने कहा कि जो भी आपत्तियां आईं उसे जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित कमेटी के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। इसके बाद तीनों तहसीलों के एसडीएम के स्तर से सभी आपत्ति करने वाले विद्यालयों की जांच कराई जाएगी। जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे नियमानुसार निस्तारण किया जाएगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें