DA Image
17 सितम्बर, 2020|3:38|IST

अगली स्टोरी

संतकबीरनगर: धमाके के साथ धू-धू कर जल गया फीडर, कई गांवों की बिजली ठप 


संतकबीरनगर। हिंदुस्तान टीम 
संतकबीरनगर के विद्युत उपकेंद्र मुखलिसपुर में गुरुवार की सुबह करीब छह बजे अचानक तेज धमाके के बाद आग लग गई। इससे केंद्र का धनघटा फीडर पर 33 केवीए इनकमिंग व आउट गोइंग सिस्टम धू धू कर जल गया। मौके पर मौजूद कर्मचारियों के अथक प्रयास के बाद आग को नियंत्रित किया जा सका। विभागीय अधिकारियों के अनुसार अगले चौबीस घण्टे के बाद ही धनघटा क्षेत्र की आपूर्ति बहाल हो सकेगी। क्षेत्र के डेढ़ सौ से अधिक गांवो में अंधेरा पसर गया।

विद्युत उपकेंद्र मुखलिसपुर से महुली, नाथनगर व धनघटा क्षेत्र के लिए अलग-अलग फीडर संचालित है। गुरुवार की सुबह करीब छह बजे अचानक केंद्र के अंदर तेज धमाका हुआ। कर्मचारी भाग कर अंदर पहुंचे।  धनघटा फीडर का 33 केवीए इनकमिंग व आउटगोइंग सिस्टम जल रहा था। ड्यूटी में तैनात एसएसओ  आशुतोष कुमार ने शोर मचाया। अन्य कर्मचारी भी पहुंच गए। सभी लोग मिलकर आग बुझाने का प्रयास करने लगे। अथक प्रयास के बाद आग को नियंत्रित किया गया। 

एसएसओ ने कंट्रोल रूम में फोन कर आपूर्ति को ठप कराया। लेकिन तब तक पूरा सिस्टम खाक हो चुका था। सिस्टम जलने से धनघटा फीडर की सप्लाई अगले चौबीस घण्टे के बाद बहाल हो सकेगी। कर्मचारियों के अनुसार आग शार्ट सर्किट के कारण लगी है। हालांकि महुली व नाथनगर फीडर के बच जाने से शाम तक बिजली आपूर्ति बहाल हो जाएगी। विद्युत उपकेंद्र मुखलिसपुर के जेई मिथलेश कुमार ने बताया कि विद्युत उपकेंद्र मुखलिसपुर में धनघटा फीडर की इनकमिंग व आउट गोइंग सिस्टम शार्ट सर्किट के कारण जल गया है। 

मरम्मत में एक दिन का समय लगेगा। अन्य फीडर की आपूर्ति देर शाम तक बहाल हो जाएगी। बस्ती स्टोर रूम से जले उपकरण का कुछ पार्ट मंगाया जा रहा है। प्रयास रहेगा कि जल्द से जल्द आपूर्ति बहाल हो जाये।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:electric feeder burnt in Santkabirnagar power cut in many villages