DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  संतकबीरनगर  ›  पूर्व प्रधान समेत सात के खिलाफ़ दलित उत्पीड़न का मुकदमा

संतकबीरनगरपूर्व प्रधान समेत सात के खिलाफ़ दलित उत्पीड़न का मुकदमा

हिन्दुस्तान टीम,संतकबीरनगरPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 08:50 PM
पूर्व प्रधान समेत सात के खिलाफ़ दलित उत्पीड़न का मुकदमा

नाथनगर। हिन्दुस्तान संवाद

महुली थाना क्षेत्र के ग्राम अमिहा निवासी एक दलित की तहरीर पर पुलिस ने पूर्व प्रधान समेत सात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। आरोपितों के खिलाफ घर में घुसकर मारने पीटने, तोड़फोड़ व एससीएसटी की धाराओं में अभियोग पंजीकृत हुआ है। उक्त मामला एक सप्ताह पूर्व का है।

महुली थाना क्षेत्र के ग्राम अमिहा निवासी दलित लालमन पुत्र बाबू लाल ने पुलिस को तहरीर दी गई। उसने कहा कि वह 17 मई को बगल के गांव में ब्रह्मभोज में सम्मलित होने गया हुआ था। इसी दौरान उसके ग्राम पंचायत के पूर्व प्रधान सूरज पाल अपने समर्थकों के साथ पहुंचा। गाली देते हुए कहा कि इसको मार कर गिरा दो।

चुनाव में विरोध के कारण चुनाव हार गया हुआ। लालमन के अनुसार बीच बचाव करने पहुंचे उसके भाई तथा उसे मारने-पीटने लगे। बीच बचाव करके लोगों ने मामले को शांत कराया। लालमन के अनुसार थोड़ी देर बाद पुनः पूर्व प्रधान सूरज पाल अपने समर्थकों के साथ उसके घर पर चढ़ गया।

एतराज करने पर जाति सूचक गालियां देते हुए मारने के लिए दौड़ा लिया। लाठी डंडे से लैस समर्थकों के साथ घर में घुसकर उसे तथा उसके भाई पर टूट पड़े। लाठी-डंडे से मारपीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। दरवाजे में रखे सामान को क्षतिग्रस्त कर दिया गया।

पुलिस तहरीर के आधार पर प्रतिवादी पूर्व प्रधान सूरज पाल पुत्र राघवेंद्र बहादुर पाल, विशम्भर यादव पुत्र हरिचरन यादव, कुलदीप यादव पुत्र बैजनाथ यादव, रत्नेश यादव पुत्र जगरनाथ यादव, बृजेश यादव पुत्र विशम्भर यादव, अनुपम यादव पुत्र राम मिलन यादव, हरेंद्र यादव पुत्र रामभवन यादव निवासीगण अमिहा के खिलाफ एक राय होकर मारने पीटने, धमकी, तोड़फोड़, हरिजन उत्पीड़न की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

संबंधित खबरें