DA Image
12 जुलाई, 2020|8:55|IST

अगली स्टोरी

एंबुलेंस ड्राइवरों ने कहा, दिन-रात काम करने के बाद भी नहीं मिल रही समय से तनख्‍वाह 

संतकबीरनगर में स्वास्थ्य विभाग के एम्बुलेंस चालकों ने वेतन समेत अन्य समस्याओं के निदान के लिए गुरुवार को जिला चिकित्सालय पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया। एम्बुलेस चालकों का कहना है अगर हमारी मागें पूरी नहीं हुईं तो जल्द इमरजेन्सी सेवा भी ठप कर दी जाएगी। 

एम्बुलेंस यूनियन संघ के सदस्य समस्याओं को लेकर महीनों से आंदोलनरत हैं। इससे पूर्व एम्बुलेंस चालक संघ ने डीएम व अन्य जिम्मेदार अधिकारियों को पत्र लिखकर गुरुवार से आन्दोलन की चेतावनी दी थी। जिले में कार्यरत एम्बुलेंस चालकों ने छह बिन्दुओं पर अपनी मांगों को लेकर गुरुवार को अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया। संघ के जिलाध्यक्ष जमीर खान का कहना है कि एम्बुलेन्स चालकों को दिन-रात काम करने के वावजूद समय से वेतन नहीं मिल रहा है। इससे एम्बुलेन्स चालकों का भुखमरी के कगार पर है। हम लोगों के साथ सौतेला व्यवहार हो रहा है। इसके चलते अब हम लोग आर-पार की लड़ाई लड़ने के लिए तैयार हैं। 

उन्होंने कहा कि अगर हमारी मांगों को जल्द पूरा नहीं किया गया तो जल्द ही पूरे जिले की अपातकालीन सेवी भी ठप कर दी जाएगी। इसकी सारी जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी। पूर्व में इसकी लिखित सूचना शासन-प्रशासन को दे दी गई है। संघ के महामंत्री बाल गोविन्द मिश्रा ने कहा कि कर्मचारी सेवा प्रदाता संघ व श्रम आयुक्त की मौजूदगी में हुए समझौते को सेवा प्रदाता कंपनी नहीं मान रही है। यही नहीं चालकों का ठेके प्रथा समाप्त होना चाहिए। आए दिन कर्मचारियों का शोषण हो रहा है। कर्मचारियों के भविष्य निधि में घोटला हुआ है। इसका समाधान होना चाहिए। एम्बुलेस चालकों की मांगे जब तक पूरी नहीं होती तब तक धरना-प्रदर्शन किया जाएगा।

इस दौरान कोषाध्यक्ष अरविन्द यादव, जालन्धर चौधरी, विकास चौधरी, हरेन्द्र पाण्डेय, अवधेश तिवारी, पन्नालाल यादव, संजय कन्नौजिया, राहुल कुमार, रीता यादव, सुमन तिवारी सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:ambulance drivers protest started dharna for salary and other issues in santkabirnagar