Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश संभलमाता अन्नपूर्णा महोत्सव में भजनों पर झूमी महिलाएं

माता अन्नपूर्णा महोत्सव में भजनों पर झूमी महिलाएं

हिन्दुस्तान टीम,संभलNewswrap
Sun, 28 Nov 2021 11:30 PM
माता अन्नपूर्णा महोत्सव में भजनों पर झूमी महिलाएं

चन्दौसी नगर के कैथल गेट स्थित श्री देवी गंगा मंदिर में चल रहे सत्रह दिवसीय मां अन्नपूर्णा महोत्सव के पांचवें दिन आयोजित भजनों पर महिलाएं झूम उठीं। जयकारे भी गूंजते रहे। भक्ति का माहौल बन गया।

सर्व प्रथम मंदिर के पुजारी पं. मनोज शर्मा ने वेद मंत्रोच्चारण के साथ मां अन्नपूर्णा का अभिषेक व श्रंगार कर पूजन संपन्न कराया। तदोपरांत कथा वाचक अंकुश शर्मा ने अपने प्रवचनों में कहा कि धनन्जय नामक एक ब्राह्मण था। उसने मां अन्नपूर्णा व्रत करके बहुत सारी संपदा पा ली। धनवान होने से ब्राह्मण युवा हो गया। उसने अपना दूसरा विवाह भी कर लिया। विवाह के बाद अगले वर्ष ब्राह्मण ने कृष्ण पंचमी मार्गशीष पर अन्नपूर्णा व्रत के निहित हाथ पर डोरे बंधवा लिए। दूसरी पत्नी के पास जाने पर उसने डोरा निकाल कर जला दिया और फिर उसके बाद वह दरिद्र हो गया। उसे अपनी गलती का एहसास हुआ तो उसने दुबारा व्रत किया और धनधान्य हो गया। इस बीच महिलाओं ने भजनों की छटा बिखेरी। भजनों पर महिलाएं झूम उठीं। आरती के बाद प्रसाद वितरण किया गया। इस अवसर पर शारदा देवी, उर्मिला, रजनी, आरती, जावित्री, रामवती, प्रवेश शर्मा, अर्चना, पुष्पा, पूजा, ममता, सुशीला शर्मा, भगवती प्रसाद, राहुल वार्ष्णेय, दिलीप अग्रवाल, रोविल, डालचंद्र, सचिन, विजयगोपाल, उमाशंकर शर्मा आदि श्रद्धालुओं की भागीदारी रही।

epaper

संबंधित खबरें