School bus hanging in trench at Sambhal villagers saved children - संभल में खाई में लटकी स्कूली बस, ग्रामीणों ने बचाए बच्चे DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संभल में खाई में लटकी स्कूली बस, ग्रामीणों ने बचाए बच्चे

संभल में खाई में लटकी स्कूली बस, ग्रामीणों ने बचाए बच्चे

1 / 4संभल जिले के असमोली थानाक्षेत्र में सोमवार को स्कूली बच्चों से भरी बस लगभग 15 फुट गहरी खाई में पलटने से बाल-बाल बच गई। बस मध्य गंगा नहर के लिए बनाई कच्ची पुलिया पर तिरछी होकर खाई की ओर लटक गई तो...

संभल में खाई में लटकी स्कूली बस, ग्रामीणों ने बचाए बच्चे

2 / 4संभल जिले के असमोली थानाक्षेत्र में सोमवार को स्कूली बच्चों से भरी बस लगभग 15 फुट गहरी खाई में पलटने से बाल-बाल बच गई। बस मध्य गंगा नहर के लिए बनाई कच्ची पुलिया पर तिरछी होकर खाई की ओर लटक गई तो...

संभल में खाई में लटकी स्कूली बस, ग्रामीणों ने बचाए बच्चे

3 / 4संभल जिले के असमोली थानाक्षेत्र में सोमवार को स्कूली बच्चों से भरी बस लगभग 15 फुट गहरी खाई में पलटने से बाल-बाल बच गई। बस मध्य गंगा नहर के लिए बनाई कच्ची पुलिया पर तिरछी होकर खाई की ओर लटक गई तो...

संभल में खाई में लटकी स्कूली बस, ग्रामीणों ने बचाए बच्चे

4 / 4संभल जिले के असमोली थानाक्षेत्र में सोमवार को स्कूली बच्चों से भरी बस लगभग 15 फुट गहरी खाई में पलटने से बाल-बाल बच गई। बस मध्य गंगा नहर के लिए बनाई कच्ची पुलिया पर तिरछी होकर खाई की ओर लटक गई तो...

PreviousNext

संभल जिले के असमोली थानाक्षेत्र में सोमवार को स्कूली बच्चों से भरी बस लगभग 15 फुट गहरी खाई में पलटने से बाल-बाल बच गई। बस मध्य गंगा नहर के लिए बनाई कच्ची पुलिया पर तिरछी होकर खाई की ओर लटक गई तो उसमें सवार 50 स्कूली बच्चों में चीख-पुकार मच गई। खेतों में मौजूद दर्जनों ग्रामीणों ने भागकर रस्से डालकर बस को किसी तरह बस को खाई में पलटने से रोका और आनन फानन में बच्चों को बाहर निकाला। दहशत में कई बच्चे बेहोश हो गए। बाद में क्रेन के जरिये खाई में लटकी हुई बस को खींचा गया। करीब तीन घंटे तक रेस्क्यू आपरेशन चला। ग्रामीणों की सतर्कता और सूझबूझ से बड़ा हादसा टल गया।

मध्य गंगा नहर के लिए गांव नेकपुर मिलक के पास कच्ची पुलिया बनवाई गई है। पुलिया की साइड में मिट्टी पड़ी है, जबकि पक्की दीवार नहीं बनवाई गई। पुलिया के बराबर में ही करीब पंद्रह फुट गहरी खाई है। अमरोहा जिले के द आर्यन स्कूल जोया की बस सोमवार दोपहर लगभग एक बजे छुट्टी होने के बाद बच्चों को घरों पर छोड़ने के लिए निकली। असमोली थानाक्षेत्र के गांव ऐंचौड़ा कम्बोह से भवालपुर मार्ग पर बस नेकपुर मिलक के पास करीब ढाई बजे पहुंची तो कच्ची पुलिया की साइड से पहिया खाई में फिसलने लगा।

चालक सतपाल सिंह निवासी गांव ईसापुर मुंड ने जैसे-तैसे बस को नियंत्रित किया तो पुलिया की साइड में बस लटक गई। बराबर में गहरी खाई को देखकर बच्चों में चीख पुकार मच गई। बस चालक के हाथ-पांव फूल गए। बच्चों के शोर मचाने पर आसपास के ग्रामीण दौड़कर मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों ने बस को खाई में गिरने से बचाने के लिए रेस्क्यू शुरू किया।

सबसे पहले बस के एक हिस्से में रस्सी बांधी को पकड़कर खड़े हो गए। कुछ ग्रामीण बच्चों को खिड़कियों से बाहर निकालने लगे। तब तक खबर मिलने पर बच्चों के परिजन भी पहुंच गए। उस वक्त बच्चे बुरी तरह सहमे और घबराए नजर आए। कई बच्चे बेहोश हो गए जिन्हें पानी पिलाकर होश में लाया गया। बच्चों के सकुशल बाहर निकलने पर ग्रामीणों ने कुछ राहत महसूस की। फिर क्रेन बुलाकर बस को बाहर खिंचवाया गया। शाम साढ़े पांच रेस्क्यू पूरा हुआ। कई बच्चों को परिजन मौके से लगे गए, जबकि कुछ बच्चे स्कूल की दूसरी गाड़ी से घरों तक पहुंचाए गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:School bus hanging in trench at Sambhal villagers saved children