ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश संभलगैंगस्टर में फरार रिटायर्ड पालिकाकर्मी और पत्नी ने किया कोर्ट में सरेंडर

गैंगस्टर में फरार रिटायर्ड पालिकाकर्मी और पत्नी ने किया कोर्ट में सरेंडर

गैंगस्टर के मामले में फरार चल रहे रिटायर्ड पालिकाकर्मी जमील अहमद व उसकी पत्नी शाहजहां ने गुरुवार को चन्दौसी कोर्ट में सरेंडर कर दिया। जहां से...

गैंगस्टर में फरार रिटायर्ड पालिकाकर्मी और पत्नी ने किया कोर्ट में सरेंडर
हिन्दुस्तान टीम,संभलFri, 08 Dec 2023 01:00 AM
ऐप पर पढ़ें

गैंगस्टर के मामले में फरार चल रहे रिटायर्ड पालिकाकर्मी जमील अहमद व उसकी पत्नी शाहजहां ने गुरुवार को चन्दौसी कोर्ट में सरेंडर कर दिया। जहां से न्यायमूर्ति ने दोनों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। पूर्व पालिकाध्यक्ष रमेश चंद्र बादशाह को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। दो अलग-अलग मामलों में तीनों पर षडयंत्र कर कूटरचित दस्तावेज तैयार करके सरकारी जमीन हड़पने के आरोप में पुलिस ने जिला प्रशासन के अनुमोदन पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की थी।
पुलिस के मुताबिक 05 अप्रैल 2022 को चन्दौसी के तत्कालीन तहसीलदार दीपक चौधरी की ओर से पूर्व पालिकाध्यक्ष रमेश चंद्र बादशाह समेत पालिकाकर्मी जमील अहमद व उसकी पत्नी शाहजहां के खिलाफ सरकारी भूमि गाटा संख्या 1069 के रकबा 0.595 हेक्टेयर ग्राम बहजोई बाहर चुंगी पर कूटरचना कर षडयंत्र पूर्वक कब्जा करने की कोशिश कर अमानत में खयानत की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। दूसरे मामले में नामित सभासद कन्हैयालाल की ओर से की गई शिकायत पर जिला प्रशासन द्वारा नामित कमेटी की जांच रिपोर्ट के बाद गाटा संख्या 681 के रकबा 0.595 हेक्टेयर ग्राम बहजोई बाहर चुंगी पर षडयंत्र रचते हुए कूटरचित दस्ताबेजों के सहारे अवैध कब्जा करने को लेकर 19 जनवरी 2023 को बहजोई के अधिशासी अधिकारी ज्ञानेंद्र सिंह की ओर से पूर्व पालिकाध्यक्ष समेत पालिकाकर्मी व उसकी पत्नी के खिलाफ धोखाधड़ी, अमानत में खयानत व षडयंत्र पूर्वक फर्जी दस्तावेज तैयार कर सराकारी संपत्ति पर अवैध कब्जा करने की कोशिश में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी।

---

वर्जन-

सरकारी संपत्ति पर षडयंत्र कर कूटरचित दस्तावेज तैयार करते हुए अवैध कब्जा करने के मामलों में पूर्व पालिकाध्यक्ष बहजोई रमेश चंद बादशाह समेत रिटायर पालिकाकर्मी जमील अहमद व उसकी पत्नी शाहजहां के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में रिपोर्ट दर्ज की गई थी। पूर्व पालिकाध्यक्ष को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। अन्य दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी को पुलिस प्रयास कर रही थी। गुरुवार को रिटायर्ड पालिकाकर्मी व उसकी पत्नी ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया। जहां से दोनों को जेल भेजा गया है।

श्रीश्चंद्र, एएसपी, संभल।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें