Ramlila concludes with the coronation of Lord Shri Ram - प्रभु श्री राम के राजतिलक के साथ रामलीला का समापन DA Image
21 नबम्बर, 2019|12:40|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रभु श्री राम के राजतिलक के साथ रामलीला का समापन

default image

बनियाठेर क्षेत्र के गांव भुलावई में चल रही रामलीला का प्रभु श्री राम के राजतिलक के साथ समापन हो गया। मंचन के दौरान कलाकारों ने धार्मिक गीतों पर नृत्य की प्रतिभा से श्रद्धालुओं का मनमोह लिया। रामलीला समापन उपरांत कलाकारों को पुरस्कृत कर सम्मानित किया गया।

मंचन के दौरान कथा वाचक राजेश शर्मा ने बताया कि मेघनाथ के वध बाद रावण ने अपने पुत्र को माया के द्वारा बुलाया। जो पातालपुरी में रहता था। उसके बाद अहिरावण राम लक्ष्मण को चुरा कर पातालपुरी ले गया। उधर जब राम लक्ष्मण को रामा दल में नहीं देखा तो हनुमान जी क्रोध में आ गए और विभीषण से कहने लगे कि यह तुम्हारी चाल है। मुझे बताओ प्रभु कहां हैं। नहीं तो अनर्थ हो जाएगा। तब भी विभीषण ने कहा कि मैं बताता हूं रावण का पुत्र अहिरावण प्रभु राम और लक्ष्मण को पातालपुरी ले गया है। जहां हनुमान जी की मकरध्वज से भेंट हुई। हनुमान जी ने मकरध्वज को बांध कर डाल दिया और अहिरावण का वध कर प्रभु श्री राम और लक्ष्मण को बंधन मुक्त कराया। रावण वध का मंचन किय गया। रावण वध के बाद अयोध्या पहुंचने पर प्रभु श्री राम का राजतिलक का मनोहारी मंचन किया गया। इस दौरान प्रभु श्री राम के जयकारे गूंजते रहे। समापन अवसर पर ग्राम प्रधान दिलशाद खान, राशन डीलर राजीव कुमार ने समस्त कार्यकर्ताओं और कलाकारों को पुरस्कार प्रदान सम्मानित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ramlila concludes with the coronation of Lord Shri Ram