अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नोडल अफसर को मिड डे मिल में मिली धांधली, रोका प्रधानाध्यापक का वेतन

नोडल अफसर को मिड डे मिल में मिली धांधली, रोका प्रधानाध्यापक का वेतन

जनपद दौरे पर आये नोडल अधिकारी कर्ण सिंह चौहान ने स्कूल सहित सरकारी दफ्तरों का औचक निरीक्षण किया। अफसरों को सुधार के निर्देश दिये । वहीं गांव लहरावन में पेयजल टंकी सहित विकास कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया।

नोडल अधिकारी कर्ण सिंह चौहान रजपुरा ब्लाक के गांव न्यौरा ब्यौरा के प्राथमिक विद्यालय पहुंच गये। जहां उन्होंने स्कूल का निरीक्षण किया। बच्चों से किताब व ड्रेस के बारे में पूछे जाने पर उनके पास ड्रेस व किताबें नहीं मिलीं। पंजीकृत बच्चे उपस्थित नहीं थे। कुछ ही बच्चे उपस्थित थे और मिड डे मिल सभी बच्चों को वितरित करना दर्शाया गया था। जिस पर विद्यालय के प्रधानाध्यापक का वेतन रोके जाने के निर्देश बीएसए को दिये। इसके बाद वह कस्तूरबा विद्यालय में पहुंच गये । जहां चैक लिस्ट बनाये जाने तथा उसके आधार निरीक्षण करने की बात कही। जिला पूर्ति अधिकारी दफ्तर पर उन्होंने पत्रावलियों का बारीकी से निरीक्षण किया और सुधार करने के निर्देश दिये। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में निरीक्षण करते हुए मिड डे मिल में भ्रष्टाचार रोकने की बात कहते हुए कार्रवाई की चेतावनी दी। इसके बाद नोडल अधिकारी गांव लहरावन में विकास कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करने पहुंच गये । जहां उन्होंने पेयजल टंकी का निरीक्षण किया तथा राजकीय इंटर कालेज छात्रावास का निरीक्षण करते हुए बच्चों को सही सुविधायें देने की बात कही। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी शंभुनाथ तिवारी आदि अफसर मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Nodal officer got unfair in Mid Day Meal Paused Principal s salary