DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › संभल › महापंचायत में अफसरों ने मानी किसानों की मांगें तो खत्म हुआ धरना
संभल

महापंचायत में अफसरों ने मानी किसानों की मांगें तो खत्म हुआ धरना

हिन्दुस्तान टीम,संभलPublished By: Newswrap
Wed, 04 Aug 2021 03:42 AM
महापंचायत में अफसरों ने मानी किसानों की मांगें तो खत्म हुआ धरना

कैलादेवी बिजलीघर को किरारी फीड़र से जोड़ने, मुख्य हाईटेंशन की जर्जर लाईन को बदलवाने और डबल ग्रुप में बिजली सप्लाई दिए जाने संबंधी मांगों को लेकर धरना दे रही भाकियू ने मंगलवार को खिरनी बिजलीघर पर महापंचायत की। महापंचायत में पहुंचे किसानों ने समस्याओं का समाधान कराने के लिए अफसरों को दोपहर दो बजे तक का अल्टीमेटम दिया लेकिन दो बजे से पहले ही अफसर किसानों के बीच पहुंच गए और किसानों की समस्यरओं के समाधान का आश्वासन दिया। इस पर किसानों ने धरना समाप्त कर दिया।

भारतीय किसान यूनियन असली द्वारा शनिवार से खिरनी बिजलीघर पर मांगों को लेकर धरना दिया जा रहा था। मंगलवार को किसानों की धरना स्थल पर महापंचायत थी। किसानों ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि अगर अफसर धरना स्थल पर नहीं पहुंचे और समस्याओं के समाधान का आश्वासन नहीं दिया तो किसान सड़क पर उतरकर आंदोलन करेंगे। महापंचायत शुरू होने से पहले ही धरना स्थल पर हयातनगर व हजरतनगर गढ़ी थाना प्रभारी फोर्स के साथ पहुंच गए। पीएसी को भी मौके पर बुला लिया गया। महापंचायत में किसानों ने तय किया कि अगर दो बजे तक अफसर उनके बीच पहुंचकर समस्याओं का समाधान नहीं करते हैं तो संभल-अनूपशहर मार्ग पर जाम लगा दिया जाएगा। दो बजने से पहले ही एसडीएम दीपेंद्र यादव, सीओ अरूण कुमार सिंह और बिजली विभाग के एसडीओ किसानों के बीच पहुंच गए और समस्याओं को सुना।

संभल। जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह यादव ने कहा कि खिरनी बिजलीघर को डबल ग्रुप में अर्थात 24 घंटे बिजली सप्लाई दी जाए। कैलादेवी बिजलीघर को किरारी फीड़र से जोड़ा जाए। 33 केवी व 11 केवी की जर्जर बिजली लाईनों को बदला जाए। बिजीलेंस द्वारा कनेक्शन धारकों से चेकिंग के नाम पर अवैध बसूली की जा रही है, इसे रोका जाए और उनके खिलाफ दर्ज मुकदमों को वापस लिया जाए। कृषि के लिए दस घंटे और घरेलू क्षेत्र के लिए 18 घंटे बिजली दी जाए। इससे कम बिजली मिलने पर उसी हिसाब से बिल कम किया जाए। एसडीओ व एसडीएम ने आश्वासन दिया कि खिरनी बिजलीघर को डबल ग्रुप में बिजली दी जाएगी। कैलादेवी को किरारी से जोड़ने का काम होगा। 33 केवी की जर्जर बिजली लाईन को बदलने का कार्य 25 दिन में पूरा कर दिया जाएगा। बिजीलेंस द्वारा कनेक्शन धारकों को परेशान नहीं किया जाएगा। आश्वासन पर किसान मान गए और धरना खत्म कर दिया। इस दौरान संजीव गांधी, जयवीर सिंह, ब्रह्मचारी, गंगाफल, धर्मपाल, बिजेंद्र सिंह, अर्जुन धारीवाल, वीर सिंह यादव, सुलेराम सिंह आदि मौजूद रहे।

संबंधित खबरें