DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  संभल  ›  उपचुनाव : जिले में तीन महिलाओं समेत चार बने प्रधान, खिले चेहरे
संभल

उपचुनाव : जिले में तीन महिलाओं समेत चार बने प्रधान, खिले चेहरे

हिन्दुस्तान टीम,संभलPublished By: Newswrap
Mon, 14 Jun 2021 11:41 PM
उपचुनाव : जिले में तीन महिलाओं समेत चार बने प्रधान, खिले चेहरे

संभल/मनोटा। संवाददाता

संभल जिले में उपचुनाव के तहत छह विकास खंडों में प्रधान के चार और ग्राम पंचायत सदस्यों के 91 पदों के लिए हुए मतदान के बाद मतगणना भी संपन्न हो गई। तीन महिलाओं समेत चार लोग प्रधान चुने गए तो विजेताओं और समर्थकों के चेहरे खिल उठे। उपचुनाव संपन्न होने पर जनपद में 670 ग्राम पंचायतें भी गठित हो गईं। जिसकी सूचना राज्य निर्वाचन आयोग को भेज दी गई।

उपचुनाव प्रक्रिया के तहत छह विकास खंडों में प्रधान और सदस्य पदों के प्रत्याशियों के लिए बारह जून को 74 प्रतिशत मतदान हुआ था। जिसके बाद जिला प्रशासन ने मतगणना की तैयारी पूरी कीं। सोमवार को सुबह आठ बजे से मतगणना के लिए 18 पार्टियों में 72 कार्मिकों को लगाया गया। कहीं निर्धारित समय तो कहीं कुछ देरी से मतगणना कार्य शुरु हो पाया। कार्मिकों ने सुरक्षा इंतजामों के बीच पूरी निष्पक्षता के साथ वोटों की गिनती की। असमोली और पंवासा में मतगणना परिणाम को लेकर ज्यादा उत्सुकता का माहौल बना रहा क्योंकि यहां प्रधान पदों के लिए भी वोटों की गिनती हो रही थी। दोपहर के वक्त मतगणना संपन्न होने के साथ ही संबंधित निर्वाचन अधिकारियों ने परिणाम घोषित कर दिया। असमोली में ग्राम पंचायत मथना में आशा देवी को 482 मत मिले और प्रधान बन गईं। आशा के प्रतिद्वंदी मुनीश को 277 वोट मिल पाए। ग्राम पंचायत रझा में खुशबू त्यागी प्रधान निर्वाचित हुईं। खुशबू को 408 वोट मिले जबकि प्रतिद्वंदी नितिन त्यागी को 393 मत मिल पाए। ग्राम पंचायत असगरीपुर में फरजाना 431 मत लेकर प्रधान बनीं। प्रतिद्वंदी यासमीन 412 मत मिले। वहीं पंवासा की ग्राम पंचायत अढौला माफी में अखिलेश कुमार 867 वोट लेकर प्रधान चुने गए। प्रतिद्वंदी मिथलेश को 649 मत मिले। बताया गया कि अखिलेश के पिता की मौत कोरोना संक्रमण से हुई थी। निर्वाचन अधिकारियों ने प्रधान पद के विजेताओं को प्रमाण पत्र सौंपे। उपचुनाव में जीत के बाद समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गई।

.91 सदस्य निर्वाचित होने पर ग्राम पंचायतें संगठित

संभल। संभल जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव संपन्न होने के बाद 143 ग्राम पंचायतें संगठित नहीं हो पाई थीं। जिसे लेकर ही उपचुनाव का कार्यक्रम जारी किया गया। सोमवार को मतगणना संपन्न होने के बाद सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी हनीफ अहमद ने बताया कि विकास खंड असमोली में 18, पंवासा में 16, बनियाखेड़ा में 13, बहजोई में तीन, गुन्नौर में 22 और जुनावई में 19 ग्राम पंचायत सदस्य निर्वाचित हो गए। निर्वाचन अधिकारियों ने नवनिर्वाचित सदस्यों को प्रमाण पत्र सौंप दिए। सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जनपद में 670 ग्राम पंचायतें हैं। अब उपचुनाव संपन्न होने पर सभी ग्राम पंचायतें संगठित हो चुकी हैं।

संबंधित खबरें