Friday, January 21, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश संभलअकरम ने प्रेम को खून देकर पेश की भाईचारे की मिसाल

अकरम ने प्रेम को खून देकर पेश की भाईचारे की मिसाल

हिन्दुस्तान टीम,संभलNewswrap
Thu, 02 Dec 2021 03:30 AM
अकरम ने प्रेम को खून देकर पेश की भाईचारे की मिसाल

संभल में मुस्लिम समुदाय के व्यक्ति ने हिन्दू ग्रामीण को जरूरत होने पर कदम बढ़ाए। उसे खून देकर न सिर्फ जान बचाई बल्कि भाईचारे की मिसाल पेश की। हिन्दू मुस्लिम एकता के इस मामले को लेकर क्षेत्र में चर्चा का माहौल बना हुआ है। समाज को भी संदेश मिल रहा है।

दरअसल, हजरतनगर गढ़ी थानाक्षेत्र के सिरसी निवासी प्रेम सिंह किसी काम से हजरतनगर गढ़ी जा रहा था। सामने से आए अज्ञात वाहन की टक्कर से प्रेम सिंह घायल हो गया और खून बहने लगा। लोगों ने उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डाक्टर ने खून कम होने की बात कही। यह सुनकर ग्रामीण के परिजन घबरा गए और खून का इंतजाम करने में जुट गए। कई लोगों का ब्लड ग्रुप चेक कराया गया लेकिन मेच नहीं हो पाया। तभी सिरसी के अब्दुल गफूर सोसायटी के अध्यक्ष अजीम कुरैशी को जानकारी हुई। अजीम व्हाट्सएप पर ब्लड ग्रुप में जुड़े हैं। उन्होंने ग्रुप के जरिये खून की अपील की। संदेश को पढ़कर हाफिज मोहम्मद अकरम जोकि मस्जिद में इमामत करते हैं, ने कदम बढ़ाए। उन्होंने प्रेम सिंह को अपना ब्लड देने के लिए कहा। इसकी जानकारी होने पर प्रेम सिंह के परिजन भी राहत महसूस करने लगे। मोहम्मद अकरम ने प्रेम सिंह को खून देकर जान बचाई। मोहम्मद अकरम ने कहा कि खून का कोई भी मजहब नहीं होता। मैं एक इंसान हूं और इंसानियत को निभाने आया हूं। आगे भी ऐसे ही सेवा करता रहूंगा। उन्होंने युवाओं से भी अपील की कि जब भी मौका मिले तो पीछे न हटें। खून देकर किसी की जान बचाई जा सकती है।

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें