DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › संभल › झोलाछाप पर धर्मांतरण कराने के उद्देश्य से विधवा को घर में रखने का आरोप, मुकदमा
संभल

झोलाछाप पर धर्मांतरण कराने के उद्देश्य से विधवा को घर में रखने का आरोप, मुकदमा

हिन्दुस्तान टीम,संभलPublished By: Newswrap
Wed, 21 Jul 2021 07:00 PM
झोलाछाप पर धर्मांतरण कराने के उद्देश्य से विधवा को घर में रखने का आरोप, मुकदमा

चन्दौसी। संवाददाता

झोलाछाप पर धर्मांतरण कराने के उद्देश्य से दूसरे समुदाय की विधवा को अपने घर में रखने के आरोप लगाया गया है, जबकि विधवा ने आरोपों को निराधार बताया है। हालांकि इस मामले में पुलिस ने विधवा की सास की तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ बहला फुसलाकर ले जाने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है। पुलिस आरोपी और महिला को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

जिला के मुरादाबाद के थाना बिलारी क्षेत्र के गांव टांडा अमरपुर निवासी विधवा की सास ने मंगलवार की रात कोतवाली पहुंच कर पुलिस को तहरीर दी। इसमें उसने पुलिस को बताया कि उसके बेटे की शादी 20 जून 2006 को हुई थी। शादी के बाद से ही बेटा और बहू दोनों चन्दौसी में रहने लगे। मेरे बेटे के दो पुत्र भी हैं। बीमारी के चलते बेटे की 21 जनवरी 2016 को मौत हो गई। जानकारी मिली है कि चन्दौसी के मोहल्ला अंसारी निवासी राजू अंसारी ने उसकी पुत्रवधु को किसी प्रकार से कब्जे में कर अपने घर में रख लिया है। महिला की सास ने आरोप लगाया कि राजू अंसारी मेरी पुत्रवधू का धर्म परिवर्तन और मेरे दोनों पोतों का मुस्लिम रीति रिवाज से खतना कराने का षड़यंत्र रच रहा है। पुत्रवधू और दोनों पोतों को आरोपी के चंगुल से मुक्त कराया जाए। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

कोतवाली पहुंचे हिजामं कार्यकर्ताओं ने जताया रोष

चन्दौसी। धर्मांतरण की सूचना पर मंगलवार की देर रात विधवा की सास के साथ हिन्दू जागरण मंच के प्रदेश मंत्री कौशल किशोर वंदेमातरम् अपनी टीम के साथ कोतवाली पहुंचे और मामले की जानकारी लेते हुए रोष जाहिर किया। पुलिस से तत्काल कार्रवाई की मांग की। वहीं विधवा ने पुलिस को बताया कि वह पति के साथ चन्दौसी के मोहल्ला गोलागंज में रहती थी। वह एक निजी अस्पताल में नर्स का काम भी कर रही थी। पति की राजू अंसारी से मित्रता थी। राजू अंसारी का बरेली के आंवला में निजी क्लीनिक है। पति की मृत्यु के बाद बच्चों के पालन-पोषण में दिक्कत आने लगी, जिससे उसने राजू अंसारी के क्लीनिक में नर्स का काम कर लिया। नर्स की नौकरी कर वह बच्चों का पालन पोषण कर रही है। धर्मांतरण के आरोप निराधार हैं।

वर्जन :

तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपी के घर दबिश दी गई तो आरोपी मिल गया, लेकिन महिला नहीं मिली। जब महिला से मोबाइल पर संपर्क किया गया तो उसने आंवला में होने की बात कही। देर रात महिला अपने बच्चों के साथ कोतवाली पहुंची और आरोपों को निराधार बताया है। मामले की जांच की जा रही है। महिला को गुरुवार को कोर्ट में पेश कर बयान दर्ज कराए जाएंगे।

देवेंद्र कुमार शर्मा, कोतवाल, चन्दौसी

संबंधित खबरें