DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  संभल  ›  आयोग के आदेश पर तीन साल बाद दर्ज हुआ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा

संभलआयोग के आदेश पर तीन साल बाद दर्ज हुआ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा

हिन्दुस्तान टीम,संभलPublished By: Newswrap
Sat, 10 Apr 2021 07:01 PM
आयोग के आदेश पर तीन साल बाद दर्ज हुआ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा

बहजोई/संभल। हिन्दुस्तान संवाद

रिश्तेदारी में मेला देखने आई महिला के साथ नंदोई उसके सगे भाइयों व पिता ने हथियारों के बल पर सामूहिक दुष्कर्म किया। महिला को कोई भी कार्रवाई करने से जान से मारने की धमकी दी। तीन साल बाद राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोगके आदेश पर पुलिस सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है।

धनारी थाना क्षेत्र के गांव निवासी महिला बहजोई के एक गांव में अपने नंदोई के यहां पति व बच्चों के साथ 25 मार्च 2019 को मेला देखने आई हुई थी। जब वह अपने नंदोई हरिश्चंद्र के यहां अकेली कमरे में सो रही थी। आरोप है कि हरिश्चंद्र अपने भाई गजेंद्र, पुष्पेंद्र व पिता नेत्रपाल के साथ कमरे उसे बुरी नीयत से दबोच लिया। तमंचे से जान से मारने की धमकी देते हुए चारों ने बारी-बारी सामूहिक दुष्कर्म किया। चीखने चिल्लाने की आवाज सुनकर जब पड़ोस के लोग मौके की तरफ आने लगे तो उन्हें देखकर आरोपी चारों लोग कुछ भी बताने पर जान से मारने की धमकी। महिला अगले दिन पति के साथ उसी बहजोई थाने पहुंचा लेकिन पुलिस ने उसका मुकदमा दर्ज नहीं किया। अफसरों ने भी सुनवाई नहीं की। महिला ने राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग से गुहार लगाई तो इंसाफ की आस जागी। आयोग के आदेश पर शनिवार को थाना पुलिस ने आरोपी हरिश्चंद्र उसके भाई गजेंद्र, पुष्पेंद्र व उसके पिता के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज कर लिया।

संबंधित खबरें