ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश सहारनपुरननकाना साहिब पर हुए हमले से उलेमा हुए खफा

ननकाना साहिब पर हुए हमले से उलेमा हुए खफा

सिख सामज के पवित्र गुरुद्वारे ननकाना साहिब पर हमले को लेकर उलेमा ने रोष प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि कहा कि इस्लाम किसी मजहब के धार्मिक स्थलों या पेशवा पर हमला करने की शिक्षा नहीं...

सिख सामज के पवित्र गुरुद्वारे ननकाना साहिब पर हमले को लेकर उलेमा ने रोष प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि कहा कि इस्लाम किसी मजहब के धार्मिक स्थलों या पेशवा पर हमला करने की शिक्षा नहीं...
1/ 2सिख सामज के पवित्र गुरुद्वारे ननकाना साहिब पर हमले को लेकर उलेमा ने रोष प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि कहा कि इस्लाम किसी मजहब के धार्मिक स्थलों या पेशवा पर हमला करने की शिक्षा नहीं...
सिख सामज के पवित्र गुरुद्वारे ननकाना साहिब पर हमले को लेकर उलेमा ने रोष प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि कहा कि इस्लाम किसी मजहब के धार्मिक स्थलों या पेशवा पर हमला करने की शिक्षा नहीं...
2/ 2सिख सामज के पवित्र गुरुद्वारे ननकाना साहिब पर हमले को लेकर उलेमा ने रोष प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि कहा कि इस्लाम किसी मजहब के धार्मिक स्थलों या पेशवा पर हमला करने की शिक्षा नहीं...
हिन्दुस्तान टीम,सहारनपुरSun, 05 Jan 2020 10:33 PM
ऐप पर पढ़ें

सिख सामज के पवित्र गुरुद्वारे ननकाना साहिब पर हमले को लेकर उलेमा ने रोष प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि कहा कि इस्लाम किसी मजहब के धार्मिक स्थलों या पेशवा पर हमला करने की शिक्षा नहीं देता। उन्होंने पाकिस्तान सरकार से हमले के आरोपियों को कड़ी सजा देने की मांग की। फतवा ऑनलाइन के चेयरमैन मुफ्ती अरशद फारुकी ने कहा कि गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर हुए हमले की निंदा करते हुए कहा कि यह सिख समाज की भावनाओं पर हमला है। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं से दिलों में नफरत और दूरिया बढ़ती हैं, जो किसी भी समाज के लिए बेहद घातक होती हैं। उन्होंने पाकिस्तान सरकार से आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए हुए कि गलत कार्य कोई भी करें उसकी भृत्सना करनी चाहिए। जमीयत दावतुल मुसलीमीन के संरक्षक कारी इस्हॉक गोरा ने प्रेस को जारी अपने बयान में कहा कि किसी भी मुल्क में धार्मिक स्थलों पर हमला करना शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरुद्वारे पवित्र इबादतगाहें होती हैं, जहां लोग जाकर अपने रब को याद करते हैं। कारी इस्हॉक ने कहा कि सिख ही नहीं प्रत्येक मजहब के लोग हमारे भाई हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में हुई घटना में हिंदुस्तान का मुसलमान हर तरीके से उनके साथ खड़ा है। उन्होंने पाकिस्तान सरकार से पवित्र ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर हमला करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने और भारत सरकार से हस्तक्षेप की मांग की।ननकाना साहिब पर हमला घोर निंदनीय: रिहानदेवबंद। नगर कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी रिहान अहमद कुरैशी ने प्रेस कोक जारी ब्यान में कहा कि सिख समुदाय की आस्था के केंद्र गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर हमला निंदनीय है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सरकार को इस मामले में कड़े कदम उठाए। उन्होंने हमलावरों की पहचान कर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा से सभी वर्गों का सम्मान करती आई है। किसी भी वर्ग या उनके धार्मिक स्थलों को निशाना बनाया जाना अति निंदनीय है।