ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश सहारनपुरडीएम के सामने हिमाचल के किसान व सहारनपुर के आढ़तियों में नोकझोंक

डीएम के सामने हिमाचल के किसान व सहारनपुर के आढ़तियों में नोकझोंक

सहारनपुर। भारतीय किसान यूनियन वेलफेयर फाउंडेशन हिमाचल प्रदेश के किसानों ने कलक्ट्रेट में हंगामा किया। उन्होंने आरोप लगाया कि सहारनपुर मंडी के दो...

डीएम के सामने हिमाचल के किसान व सहारनपुर के आढ़तियों में नोकझोंक
हिन्दुस्तान टीम,सहारनपुरMon, 27 May 2024 11:25 PM
ऐप पर पढ़ें

सहारनपुर। भारतीय किसान यूनियन वेलफेयर फाउंडेशन हिमाचल प्रदेश के किसानों ने कलक्ट्रेट में हंगामा किया। उन्होंने आरोप लगाया कि सहारनपुर मंडी के दो आढ़तियों पर उनका चार साल से करोड़ों रुपए बकाया है। डीएम के सामने किसानों और आढ़तियों में नोकझोंक हुई। डीएम ने 52 लाख रुपए देने पर सहमति बनाने पर दोनों पक्षों में समझौता कराया।

भारतीय किसान यूनियन वेलफेयर फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सोमदत्त शर्मा ने बताया कि हिमाचल प्रदेश के किसान सेब का उत्पादन करते हैं। जिसे बेचने के लिए वह सहारनपुर की फल मंडी आते हैं। उन्होंने बताया कि सहारनपुर मंडी के दो आढ़ती सचिन नारंग व अतुल नारंग ने उनके चार साल से 1.69 करोड़ का भुगतान नहीं किया है। हंगामे कर रहे किसानों को डीएम डॉ. दिनेश चंद्र व एडीएम वित्त एवं राजस्व रजनीश कुमार मिश्र ने बमुश्किल समझाया। डीएम की अध्यक्षता में दोनों पक्षों की बैठक हुई। बैठक में दोनों आढ़तियों ने तीन लाख रुपए सोमवार को ही भुगतान देने पर बात बनी। जबकि शेष 15 दिनों व पूरा भुगतान एक माह में करने पर दोनों पक्षों ने सहमति प्रदान की। पक्षों ने करीब 52 लाख रुपए के भुगतान पर सहतित जताई। इस दौरान अध्यक्ष सोमदत्त शर्मा ने कहा कि इस संबंध में कई बार उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है। इस दौरान अरूण शर्मा, सुखबीर शर्मा, मेहताब अली, विरेंद्र सिंगटा, मुउद्दीन, चौ. सुखबीर, नवीन त्यागी, मोनी शर्मा, रमेश चौहान, सुरेंद्र शर्मा, इरशाद, विरेंद्र चौहान, मनोज, छोटू आदि मौजूद रहे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।