DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चाइनीज मांझे की चपेट में आने से किशोर की मौत के बाद हड़कंप

चाइनीज मांझे की चपेट में आने से किशोर की मौत के बाद हड़कंप

1 / 2चाइनीज मांझे की चपेट में आकर एक किशोर की मौत के बाद पूरे महानगर में हड़कंप मचा हुआ है। किशोर एक सप्ताह पहले चाइनीज मांझे की चपेट में आया...

चाइनीज मांझे की चपेट में आने से किशोर की मौत के बाद हड़कंप

2 / 2चाइनीज मांझे की चपेट में आकर एक किशोर की मौत के बाद पूरे महानगर में हड़कंप मचा हुआ है। किशोर एक सप्ताह पहले चाइनीज मांझे की चपेट में आया...

PreviousNext

चाइनीज मांझे की चपेट में आकर एक किशोर की मौत के बाद पूरे महानगर में हड़कंप मचा हुआ है। किशोर एक सप्ताह पहले चाइनीज मांझे की चपेट में आया था। उस समय उपचार न मिलने संक्रमण पूरे शरीर में फेल गया। जिसके बाद किशोर को अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन उपचार की दौरान उसकी मौत हो गई।

थाना मंडी क्षेत्र निवासी 17 वर्षीय बॉबी सैनी दो जनवरी को पतंगबाजी करते हुए चाइनीज मांझे की चपेट में आ गया था। मांझे से बॉबी के हाथ की उंगली कट गई थी। उस समय छोटे से कट को गंभीरता से नहीं लिया गया। अगले दिन हाथ में अकड़न शुरू हो गई और किशोर को बुखार भी चढ़ गया। जिसके बाद परिजनों ने किशोर को चिकित्सक को दिखाया। इसके बाद भी संक्रमण कम नहीं हुआ और हाथ में सेप्टिक हो गई। हालत गंभीर होते देख परिजन युवक को हायर सेंटर ले गए। जहां पर चिकित्सकों ने किशोर को मृत घोषित कर दिया। शुक्रवार शाम को जैसे ही परिजनों को उसकी मौत की खबर मिली तो पूरे कोहराम मच गया। चाइनीज मांझे की चपेट में आने से 17 वर्षीय किशोर की मौत के बाद पूरे महानगर में हड़कंप मच गया है। चाइनीज मांझे की बिक्री को लेकर लोगों का गुस्सा लगातर बढ़ता जा रहा है। क्षेत्रवासियों का कहना है रोक के बावजूद भी चाइनीज मांझा धड़ल्ले से बेचा जा रहा है। ----------- रोक के बावजूद भी महानगर में खुलेआम बिक रहा है चाइनीज मांझा -पिछले साल भी सहारपुर में चाइनीज मांझे को लेकर प्रशासन ने चलाया था अभियान -बसंत पंचमी पास आते ही महानगर में तेज हो जाती है पतंगबाजी, इस समय चाइनीज मांझे की भी बढ़ जाती है मांग सहारनपुर। हमारे संवाददाताचाइनीज मांझे की चपेट में आने से किशोर की मौत के बाद पूरे महानगर में हड़कंप मचा हुआ है। साथ ही चाइनीज मांझे की बिक्री के आदेश पर भी सवाल उठने लगे है। गतवर्ष प्रशासन ने चाइनीज मांझे की बिक्री को महानगर में पूरी तरह से बैन कर दिया था, लेकिन आदेश को ताक पर रखकर आज भी महानगर में खुलेआम चाइनीज मांझे की बिक्री की जा रही है।

बसंत पंचमी पर जनपद में जमकर पतंगबाजी होती है। जैसे ही बसंत पंचमी नजदीक आती है पतंगबाजी का खुमार चढ़ने लगता है। पतंग के पैंच भिड़ाने के लिए चाइनीज मांझे का जमकर प्रयोग किया जाता है। गतवर्ष चाइनीज मांझे की चपेट में आने से कई हादसे हुए थे। जिसके बाद चाइनीज मांझे का विरोध शुरू हुआ था। महानगरवासियों का विरोध देखते हुए प्रशासन ने महानगर में चाइनीज मांझे की बिक्री को पूरी तरह से प्रतिबंद्ध कर दिया था, लेकिन प्रशासन के ये आदेश हवा हवाई ही साबित हुए। न तो महानगर में चाइनीज मांझे की बिक्री बंद हुई और न ही हादसे कम हुए। महानगर में धड़ल्ले से चाइनीज मांझे की बिक्री की जा रही है। दो जनवरी को चाइनीज मांझे की चपेट में आने के बाद उपचार के दौरान किशोर की मौत के बाद एक बार फिर चाइनीज मांझे को लेकर प्रशासन ने प्रतिबंद्ध के आदेशों का पालन कराने के निर्देश दिये है। सवाल है कि आखिर किसकी सह पर चाइनीज मांझे की बिक्री की जा रही है? पकड़े जाने के बावजूद भी दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई क्यों नही?

यहां पर लगता है चाइनीज मांझों का पूरा बाजार महानगगर में लक्खी गेट, शारदानगर, खलासी लाइन, नुमाइशकैंप, हकीकतनगर, हिम्मतनगर, रामपुर पठानपुरा, गोविंदनगर, पुरानी मंडी, बाजार लोहानी सराय, चौधरी विहार, धोबीघाट, देहरादून रोड, नवीनगर, पंतनगर, खानआलपुरा सहित शहर के कई इलाकों में पतंग की दुकानों पर चाइनीज मांझा खुलेआम बिक रहा है। ----एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह का कहना है कि चाइनीज मांझा बेचने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए थाना प्रभारियों को निर्देश दे दिए गए हैं। ----सिटी मजिस्ट्रेट राकेश कुमार का कहना है कि चाइनीज मांझे की बिक्री पर पूरी तरह से बंद है। इसके लिए पहले से ही आदेश जारी किये जा चुके है, यदि अब भी कोई चाइनीज मांझे की बिक्री कर रहा है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।

चाइनीज मांझे से कटने के बाद न बरतें लापरवाहीसहारनपुर। चाइनीज मांझे के कटने के बाद उपचार में कतई भी लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। छोटी सी लापरवाही कभी कभी जान पर भारी पड़ जाती है। वरिष्ठ सर्जर डॉ. नरेश सैनी की माने तो यदि कोई चाइनीज मांझे की चपेट में आने से कट जाता है तो तुरंत उसे उपचार के लिए लाना चाहिए। घाव को अच्छे से साफ कर टांके लगाए और साथ ही टेटनस का टीका लगवाएं। इसके बाद डॉक्टर की सलाह पर एंटीवायोटिक दवाई लें। जब तक घाव पूरी तरह से ठीक न हो तो साफ सफाई का ध्यान रखें।

मंडी पुलिस ने की छापेमारी, दुकानों पर बिकता मिला चाइनीज मांझा। शनिवार को चाइनीज मांझे की बिक्री के खिलाफ पुलिस ने अभियान चलाकर दुकानों पर चाइनीज मांझे की बिक्री को पकड़ा। पुलिस ने तीन दुकानों पर छापेमारी की और चाइनीज मांझा जब्त किया। शुक्रवार को मंडी क्षेत्र के किशोर की मौत के बाद पुलिस के भी कान खड़े हो गये हैं। शनिवार को मंडी थाना पुलिस ने लक्खीगेट पर तीन दुकानों पर छापेमारी की। टीम ने तीन दुकानदार तहसीन, अनंत और राजा को चाइनीज मांझा बेचते हुए रंगेहाथ पकड़ा। जिसके बाद पुलिस तीनों को थाने ले आई। पुलिस ने तीनों का चालान कर मांझे को जब्त कर लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Teenage death due to Chinese mansions