DA Image
21 अक्तूबर, 2020|7:56|IST

अगली स्टोरी

शिक्षकों को नोटिस के विरोध में आया शिक्षक संगठन

default image

परिषदीय स्कूलों में बेंच घोटाले का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। विभाग की तरफ से शिक्षकों को जारी नोटिस के विरोध में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ सामने आया है। संगठन पदाधिकारियों का कहना है कि कुछ खंड शिक्षा अधिकारियों ने दबाव बनाकर एक ही फर्म से फर्नीचर की खरीद करवाई। जिसकी निष्पक्ष जांच होना जरुरी है।

बेसिक स्कूलों में बेंच घोटाले में नित नए मोड़ सामने आ रहे है। शुक्रवार को शिक्षा अधिकारी ने सभी 12 एनपीआरसी को बेंच क्रय खरीद की बिल बुल, कोटेशन के साथ कार्यालय में बुलाया गया। एनपीआरसी ने बेंच खरीद से संबंधित सभी दस्तावेजों को कार्यालय में जमा कराया। इस बीच उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष संदीप कुमार पंवार ने भी ताल ठोक दी है।

संदीप सिंह पंवार का आरोप है कि शिक्षकों को बेंच घोटाले में जान बुझाकर फंसाया गया है। जबकि इस मामले कुछ खंड शिक्षा अधिकारी शामिल है। जिन्होंने दबाव बनाकर एक ही फर्म से फर्नीचर की खरीद करवाई गई। साथ ही पटल लिपिक जिम्मेदार है। उन्होंने बीएसए से फर्नीचर सप्लाई में संलिप्त लोगों के विरुद्ध कार्रवाई किए जाने की मांग की।

उधर, बीएसए रमेंद्र कुमार सिंह का कहना है कि बेंच की खरीदारी से संबंधित दस्तावेज एनपीआरसी से कार्यालय में मंगवाएं है। जिनकी जांच की जा रही है। इस मामले में जो भी दोषी होंगे, उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई होगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Teacher 39 s organization came in protest against notice to teachers