DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  सहारनपुर  ›  सरसावा टोल शुरू, सुहाने सफर के साथ जेब भी होगी ढीली
सहारनपुर

सरसावा टोल शुरू, सुहाने सफर के साथ जेब भी होगी ढीली

हिन्दुस्तान टीम,सहारनपुरPublished By: Newswrap
Thu, 05 Nov 2020 03:09 AM
सरसावा टोल शुरू, सुहाने सफर के साथ जेब भी होगी ढीली

सहारनपुर/सरसावा। हिटी

लंबे इंतजार के बाद बुधवार को नवनिर्मित राष्ट्रीय राजमार्ग 344 पर सरसावा के पास टोल प्लाजा शुरू हो गया। इसके साथ ही लोगों का सफर सुहाना होगा, साथ ही जेब भी ढीली होगी। सहारनपुर से चंडीगढ़ और अंबाला जाना महंगा होगा। इसी तरह सहारनपुर और हरिद्वार-रुड़की जाने वालों को भी टोल टैक्स देना होगा।

बुधवार सुबह करीब आठ बजे से सहारनपुर-अंबाला हाईवे पर सरसावा के पास टोल प्लाजा की शुरूआत एनएचएआई के चीफ अकाउंट ऑफिसर राघव त्रिवेदी, मैनेजर प्रदीप पाठक, एचआर मैनेजर दीपक, डीपीएम कविराज ने फीता काट कर किया। टोल के चालू होने के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग तो गड्ढा मुक्त हो गया। मैनेजर प्रदीप पाठक ने कहा कि 14 लाइन के टोल प्लाजा पर 15-15 किलोमीटर की दूरी पर क्रेन, एंबुलेंस, पुलिस की व्यवस्था रहेगी। इससे पूर्व पंडित सचिन कौशिक ने विधि विधान से टोल प्लाजा पर पूजा पाठ कराया। इस दौरान गोपाल सुमन आदि मौजूद रहे।

टोल की दरें

कार,जीप,वैन 105, रिटर्न ट्रिप 160, मंथली पास ( 50 दिनों के लिए मान्य) 3540, जिला स्तर पर रजिस्टर्ड कमर्शियल व्हीकल 55 रुपये, लाइट कमर्शियल व्हीकल लाइट गुड्स व्हीकल और मिनी बस एक तरफ से 170, दोनों तरफ से आना-जाना 255, एक महीने में 50 चक्कर के लिए 5715 रुपये। कमर्शियल व्हीकल जो कि जिलास्तर पर रजिस्टर्ड हैं, उनसे 85 रुपये लिए जाएंगे। बस और ट्रक वन ट्रिप 360, रिटर्न ट्रिप 540 रुपये। एक महीने के लिए 11,975, कमर्शियल व्हीकल जिला स्तर के 195 रुपया।

लोकल के लिए 275 रुपये प्रतिमाह

मैनेजर प्रदीप पाठक ने कहा कि लोकल के आवागमन को देखते हुए कार चालक से 275 रुपये प्रति माह, लोकल परमिट वाले वाहनों पर 50 प्रतिशत की छूट रहेगी। उन्होंने कहा कि एक दिसंबर तक फास्टैग कराना अनिवार्य होगा। यदि कोई फास्ट्रैग नहीं कराएगा तो नियमों के आधार पर डबल चार्ज वसूला जाएगा।

स्थानीय लोगों के लिए टोल फ्री हो

सरसावा। प्रधान संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष कमलजीत सिंह ने कहा कि किसानों ने अपनी जमीनें देखकर राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण कराया है। ऐसे में वे 275 रुपये प्रति माह का टोल क्यों दें। उन्होंने एनएचएआई के आला अधिकारियों से मांग करते हुए कहा कि 5 किलोमीटर के दायरे में पड़ने वाले सभी गांव के लोगों के अलावा स्थानीय लोगों का टोल फ्री होना चाहिए। टोल के आसपास बसे गांव के लोग पीजीआई चंडीगढ़ इलाज के लिए हर रोज आते जाते हैं, धार्मिक पर्व पर लोग धर्मस्थली कुरुक्षेत्र स्नान के लिए जाते हैं ऐसे में उनसे टोल वसूला जाना उनके साथ नाइंसाफी है।

स्थानीय लोगों से यदि वसूला टोल तो होगा आंदोलन : जगपाल दास

सरसावा। समाजवादी पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष एवं नकुड़ विधानसभा प्रभारी चौधरी जगपाल दास ने सरसावा में स्थानीय लोगों से टोल वसूली पर आंदोलन की चेतावनी दी है। चौधरी जगपाल दास ने कहा कि सरसावा में बने टोल पर आज से ही स्थानीय लोगों से टोल की वसूली शुरू हो गई है। जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेताओं ने चमारीखेड़ा में स्थानीय लोगों से टोल फ्री के लिए आंदोलन किया था। आंदोलन के बाद ही वहां लोगों के लिए टोल फ्री किया गया। उन्होंने एनएचआई के आला अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि यहां भी स्थानीय लोगों के लिए टोल फ्री नहीं किया गया तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा। गुरुवार को समाजवादी पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल जिला अधिकारी से मिलकर सरसावा में स्थानीय लोगों के आने-जाने पर टोल फ्री कराए जाने की मांग करेगा। यदि बात ना बनी तो फिर टोल प्लाजा पर ही धरना प्रदर्शन होगा।

संबंधित खबरें