अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सपा-कांग्रेस के बाद महंगाई के विरोध में रालोद का जुलूस

सपा-कांग्रेस के बाद महंगाई के विरोध में रालोद का जुलूस

राष्ट्रीय लोकदल के पदाधिकारियों ने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार बुधवार को बढ़ती महंगाई के विरोध में जुलूस निकाला। सभी पदाधिकारी हकीकत नगर स्थित धरना स्थल पर एकत्रित हुए। जिलाध्यक्ष राव कैसर सलीम ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा गरीबी नहीं गरीबों को मिटाने का काम कर रही है।

कलक्ट्रेट पहुंचने पर अधिकारियों के ज्ञापन न लेने आने पर रालोद कार्यकर्ताओं आक्रोषित हुए। राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन प्रेषित किया ज्ञापन। बढ़ती महंगाई को लेकर सपा और कांग्रेस विरोध-प्रदर्शन कर चुकी है। इन विरोध प्रदर्शन में रालोद भी साथ रही। इसके साथ रालोद पदाधिकारियों ने बुधवार को धरना स्थल पर एकत्रित हुए। जिलाध्यक्ष राव कैसर सलीम व प्रदेश महासचिव चौ. धीरसिंह ने कहा कि तेल और रसोई गैस के दाम आसमान छू रहे हैं और भाजपा सरकारी कार्यक्रमों को भी जश्न के रूप में मना रही है। कहा कि रुपया अब तक के न्यूनतम स्तर पर है। भाजपा पहली सरकार की एक सड़क का दो-दो बार उदघाटन कर रही है। जिससे गरीब किसानों की कमर टूट चुकी है। जिसका खामियाजा भाजपा सरकार को 2019 में उठाना पड़ेगा। धरना स्थल से रालोद पदाधिकारी जुलूस के रूप में कलक्ट्रेट पहुंचे। किसी प्रशासनिक अधिकारी के ज्ञापन न लेने आने के कारण रालोद पदाधिकारी भड़क गए। पदाधिकारियों ने दस मिनट में किसी अधिकारी के न आने पर डीएम कार्यालय पर ताला ठोकने की चेतावनी दी। मौके पर पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों ने पदाधिकारियों को शांत कर ज्ञापन लिया। इस दौरान पदाधिकारी विक्रम गुर्जर, सतपाल कालड़ा, रविंद्र गुर्जर, हरपाल वाल्मीकि, उस्मान राव, बाबर गाजी, सलीम ख्वाजा, रणधीर गुर्जर, सागर चौधरी, शौकीन राणा, गजेंद्र चौधरी आदि उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: RLD s procession opposed to inflation after SP-Congress