DA Image
20 सितम्बर, 2020|10:42|IST

अगली स्टोरी

भीड़ वाले बाजारों में कोरोना संक्रमण की रैण्डम जांच करें: डीएम

default image

कोरोना के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने सख्ती कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। डीएम ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मिलें। भीड़वाले स्थानों पर रैंडम चैकिंग की जाए। साथ ही अस्पतालों में वेटीलेटर्स भी व्यवस्था को भी दुरूस्त किया जाए।

जो भी कोरोना संक्रमित मरीज मिले उसकी बीमारी की केस हिस्ट्री का अध्ययन हर हाल में किया जाए। साथ ही मरीजों के पूरी तरह से स्वस्थ होने पर ही डिस्चार्ज किया जाए। रविवार को डीएम ने कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में कोविड 19 की समीक्षा बैठक की। उन्होंने कहा कि सर्विलांस टीमों को और अधिक सक्रिय कर कोविड-19 पर नियंत्रण किया जा सकता है।

सर्विलांस टीम के पास इन्फ्रारेड थर्मामीटर, पल्स आॅक्सीमीटर तथा सेनिटाइजर अवश्य होना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से बचाव के लिए लोगों को निरन्तर जागरूक किया जाए। मास्क के अनिवार्य उपयोग तथा सोशल डिस्टेंसिंग के पूर्ण पालन के लिए जागरूकता का कार्य पूरी गति से चलता रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि मास्क न लगाने वाले तथा सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लघंन करने वालों के विरूद्ध भी कार्यवाही की जाए।

बाजारों में भी रैण्डम आधार पर सैंपल लिये जाए।जिलाधिकारी ने राजकीय मेडिकल काॅलेज में निर्माण कार्यों को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी कोविड तथा नाॅन कोविड व्यवस्थाओं को दुरुस्त रखा जाए। अस्पतालों में चिकित्सकों तथा नर्सिंग स्टाफ के साथ ही विशेषज्ञ चिकित्सक भी नियमित राउण्ड लें। पैरामेडिक्स द्वारा रोगियों की माॅनिटरिंग की जाए।

उन्होंने कहा कि चिकित्साल में आॅक्सीजन की सुचारु व्यवस्था उपलब्ध रहनी चाहिए।फायर सेफ्टी का का प्रबंधडीएम ने कहा कि प्रत्येक स्तर के अस्पताल में फायर सेफ्टी के सभी प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाएं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी जनपद के सभी अस्पतालों के कार्यों की नियमित माॅनिटरिंग करें। उन्होंने कहा कि बेहतर कार्य करने वालों को जहां पुरस्कृत किया जाए वहीं खराब कार्य के लिए दण्ड़ित किया जाए।

चिकित्सीय या दवा के अभाव में किसी भी रोगी का उपचार प्रभावित नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी कोविड के दृष्टिगत सभी अस्पतालों में अतिरिक्त मात्रा में औषधियों की व्यवस्था पहले से ही उपलब्ध रहे। कोविड अस्पतालों में समस्त वेंटीलेटरों को क्रियाशील रखा जाए।

सफाई का रखा जाए ध्यान

डीएम ने कहा कि कोविड-19 से संक्रमित हुए नवजात शिशु के ईलाज में विशेष निगरानी की जाए। उन्होने मरीजों से पेयजल, खाना, साफ-सफाई, दवाई, चिकित्सकों के रवैये तथा अन्य सुविधाओं को निरंतर उपलब्ध कराया जाता रहे। उन्होने निर्देश दिये कि प्रतिदिन खाने का मैन्यू को बदला जाए।

मरीजों को नियिमत उबला हुआ पानी व फल आदि भी उपलब्ध कराया जाये। उन्होंने निर्देश दिए कि कोविड वार्ड को दिन में कम से कम तीन बार सफाई करायी जाये। बैड शीट प्रतिदिन बदली जाये। बैछक में एडीएम प्रशासन एसबी सिंह, एडीएम वित्त एवं राजस्व विनोद कुमार, अपर जिलाधिकारी न्यायिक प्रदीप कुमार, एसपी ट्रेफिक प्रेमचंद, मेडिकल कालेज के प्राचार्य डीएस मार्तोलिया, सीएमओ डॉ. बीएस सोढ़ी आदि रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Random check for corona infection in crowded markets DM