ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश सहारनपुरहिंडन को गंदा करने पर नगर निगम को 200 करोड़ से अधिक का नोटिस

हिंडन को गंदा करने पर नगर निगम को 200 करोड़ से अधिक का नोटिस

हिंडन नदी को प्रदूषित करने को लेकर एनजीटी ने सख्त कार्रवाई शुरू कर दी है। सहारनपुर नगर निगम को भी 200 करोड़ रुपये से अधिक रुपये के जुर्माने का नोटिस...

हिंडन को गंदा करने पर नगर निगम को 200 करोड़ से अधिक का नोटिस
default image
हिन्दुस्तान टीम,सहारनपुरSun, 23 Jun 2024 12:05 AM
ऐप पर पढ़ें

हिंडन नदी को प्रदूषित करने को लेकर एनजीटी ने सख्त कार्रवाई शुरू कर दी है। सहारनपुर नगर निगम को भी 200 करोड़ रुपये से अधिक रुपये के जुर्माने का नोटिस जारी कर दिया है। एनजीटी के नोटिस के बाद नगर निगम अधिकारी भी हरकत में आ गए हैं। नगर आयुक्त ने एनजीटी के निर्देशों को लेकर आपत बैठक बुलाई। उन्होंने पांवधोई नदी और ढमोला नदी में प्रदूषित जल प्रवाह करने से रोकने के लिए विस्तृत प्लान पर चर्चा की है। साथ ही नदियों को गंदा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी।

हिंडन नदी को पुनर्जीवित करने को लेकर मुहीम चल रही है। हिंडन नदी को प्रदूषित करने वाले निकायों पर अब एनजीटी ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है, जिसकी जद में सहारनपुर नगर निगम भी आ गया है। सहारनपुर नगर निगम को एनजीटी ने एक नोटिस जारी किया गया है, जिसमें कहा कि नगर निगम सहारनपुर द्वारा करीब 100 एमएलडी सीवरेज प्रतिदिन बिना ट्रीटमेंट ढमोला और पांवधोई नदी के माध्यम से हिंडन में डाला जाता है। एनजीटी ने सहारनपुर नगर निगम को भी नोटिस जारी किया है। जिसमें नगर निगम पर 200 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाने की बात कही है। एनजीटी का नोटिस मिलने के बाद अब नगर निगम ने इस पर काम शुरू कर दिया है। नोटिस जा जवाब तैयार कराया जा रहा है। इसके साथ ही नदियों को प्रदूषण से बचाने के लिए का प्लान भी तैयार किया जा रहा है।

-----

नगर आयुक्त ने ली अधिकारियों की बैठक

नगर आयुक्त संजय चौहान ने बताया कि एनजीटी के निर्देशों का पालन करने के लिए बैठक बुलाई गई थी। जिसमें पांवधोई और ढमोला नदी को प्रदूषण से मुक्त करने की योजना पर काम किया गया है। उन्होंने बताया कि दोनों नदियों में 92 नाले हैं जो सीधे नदियों को प्रदूषित करते हैं। ऐसे नालों को ट्रैप किया जाएगा। इसके साथ ही नालों पर लोहे के जाल भी लगाए जाएंगे। जिससे नदियों में कचरा जाने से रोका जा सके। इसके साथ ही नदियों को बायोरेमिडिएशन के जरिए प्रदूषण से मुक्त किया जाएगा। यही नहीं सभी नालों को एसटीपी से जोड़ने का प्लान बनाया है। जिससे साफ पानी की पांवधोई और ढमोला नदी के माध्यम से हिंडन नदी तक पहुंचे। बैठक में अपर नगर आयुक्त एसके तिवारी, मृत्युजंय, चीफ इंजीनियर बीके सिंह, सिंचाई विभाग, जल निगम और पर्यावरण प्लानर भी मौजूद रहे।

----

नदियों को गंदा करने वाले दो हजार से अधिक को भेजे जाएंगे नोटिस

नगर आयुक्त ने बताया कि नदियों को प्रदूषित करने वालों पर भी सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि नदियों में गंदा पानी छोड़ने वाले होटल, हॉस्पिटल, फैक्टियों पर पांच-पांच लाख रुपये का जुर्माना लगाने का नोटिस जारी होगा। अभी तक 531 को नोटिस जारी कर दिए हैं। जबकि, यह नोटिस करीब दो हजार लोगों को दिए जाएंगे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।