ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश सहारनपुरबच्चे का अपहरण कर हत्या में तीन का उम्रकैद

बच्चे का अपहरण कर हत्या में तीन का उम्रकैद

आठ साल के भतीजे का अपहरण कर हत्या करने वाले चाचा और उसके दो साथियों को अदालत ने दोषी करार दिया है। तीनों ने बच्चे की हत्या कर शव को बारे में बंद कर...

बच्चे का अपहरण कर हत्या में तीन का उम्रकैद
हिन्दुस्तान टीम,सहारनपुरSat, 09 Dec 2023 12:15 AM
ऐप पर पढ़ें

आठ साल के भतीजे का अपहरण कर हत्या करने वाले चाचा और उसके दो साथियों को अदालत ने दोषी करार दिया है। तीनों ने बच्चे की हत्या कर शव को बारे में बंद कर ढमोला नदी में फेंक दिया था। एडीजे कक्ष-9 आराधना कुशवाहा की अदालत ने तीन अभियुक्तों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। साथ ही तीनों पर 7.50 लाख का अर्थदंड लगाया।

अभियोजन पक्ष के मुताबिक, 24 सितंबर 2020 को थाना कुतुबशेर क्षेत्र के ढोलीखाल निवासी ग्यासुद्दीन के आठ साल के बेटे अब्दुल शमी का अपहरण कर लिया था। सूचना पर पुलिस ने छानबीन शुरू की तो पता चला कि ग्यासुद्दीन के चचेरे भाई शोएब के साथ बच्चे को देखा गया था। पुलिस ने शक के आधार पर शोएब से पूछताछ की तो बच्चे की हत्या होने की बात सामने आई थी। पुलिस ने तुरंत ही ग्यासुद्दीन की तहरीर पर शोएब को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ शुरू कर दी। पूछताछ में अभियुक्त शोएब ने बताया था कि वह शाम को आठ बजे बच्चे का अपहरण कर ले गया था। इसके बाद वह अपने खानआलमपुरा स्थित घर में पहुंचा। जहां पर उसके दो अन्य साथी सादान पुत्र सलीम, शहजाद पुत्र इफ्तकार निवासी मोहल्ला मनिहारी सराय बिजनौर के साथ मिलकर गला दबाकर बच्चे की हत्या कर दी थी। हत्या करने के बाद बच्चे का शव बोरे में बंद कर सपना पुल के पास फेंक दिया था। पुलिस ने अभियुक्तों की निशानदेही पर नाला से बच्चे का शव को बरामद कर लिया था। पुलिस ने सभी अभियुक्तों को जेल भेज दिया था।

सहायक शासकीय अधिवक्ता नीरज चौहान ने बताया कि मामले की सुनवाई एडीजे कक्ष-9 अराधना कुशवाहा की अदालत में हुई। पत्रावाली पर आए साक्ष्यों और गवाहों की गवाही के बाद अदालत ने तीनों अभियुक्तों को उम्र कैद की सजा सुनाई है। साथ ही प्रत्येक पर दो लाख 57 हजार का अर्थदंड लगाया।

--

बच्चे को घुमाने का झांसा देकर किया था अपहरण

शोएब का अपने चचेरे भाई ग्यासुद्दीन के साथ काफी समय से विवाद चल रहा था। शोएब दिल्ली में रहता था। जबकि, उसका एक मकान खानआलमपुरा में भी था। वारदात से दो-तीन दिन पहले वह सहारनपुर आया और ढोली खाल में चक्कर काटने लगा। वारदात के दिन बच्चा घर के बाहर खेल रहा था। उसी समय शोएब ने उसे घुमाने का झांसा देकर अपहरण कर लिया था। सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में यह घटना कैद हो गई थी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें