DA Image
15 अगस्त, 2020|4:25|IST

अगली स्टोरी

मजदूर दिवस: चंडीगढ़ से इलाहाबाद के लिए पैदल निकल पड़े मजदूर

default image

मजदूर दिवस पर भी मजदूरों की दुश्वारियां कम नहीं हुईं। भूखे प्यासे मजदूर चंडीगढ़ से इलाहाबाद के लिए पैदल ही निकल पड़े। शुक्रवार को पैदल ही चंडीगढ़ से इलाहाबाद की ओर जा रहे श्रमिकों ने सरसावा के गांव सैदपुरा में अपना दुख बयां करते हुए बताया कि वे अपने घर जा रहे हैं। रास्ते में हरियाणा पुलिस ने उन्हें पकड़ कर जंगलों में छोड़ दिया। जहां भूखे प्यासे रहने के बाद अब पैदल ही अपने गांव जाने को विवश हो गए हैं।

अमित, अरविंद, अरुण, धूम सिंह, नारद, गोविंदा ने कहा कि यदि घर नहीं गए तो वहां बच्चे भूखे मर जाएंगे घर वालों के पास राशन भी खत्म हो गया है। हमारा काम भी छूट गया है ऐसे में अब केवल एक चारा है गांव जाकर गेहूं की फसल काटे और परिवार का पालन पोषण करें। गत 2 दिनों से लगातार जंगलों के रास्ते पैदल चल चल कर भूख के मारे पेट अंदर घुस गया है प्यास के मारे गला सूख गया है। पुलिस कहीं सड़क पर चलते समय पिटाई ना कर दे। इसी डर को देखते हुए जंगलों के अंदर से होकर इलाहाबाद जाने की कोशिश कर रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Labor Day Workers set out from Chandigarh to Allahabad