DA Image
21 सितम्बर, 2020|12:09|IST

अगली स्टोरी

मजदूर दिवस : जान जोखिम में डालकर प्रवासी मजदूरों ने की यमुना पार

default image

लॉकडाउन में पहले से ही मुश्किलों का सामना कर रहे मजदूरों की समस्याएं कम होती नहीं दिख रही है। काम धंधे बंद है और खाने को भोजन तक का इंतजाम नहीं हो रहा है। जिससे प्रवासी मजदूरों पलायन को मजबूर हैं। कोई पैदल तो कोई साइकिल से अपने गांव लौट रहा है।

सड़कों पर पुलिस का पहरा होने के कारण अपनी जिंदगी को जोखिम में डालकर यमुना नदी पार कर सहारनपुर पहुंच रहे हैं। इसके साथ ही कुछ लोग इन मजदूरों की मजबूरी का फयादा भी उठा रहे है और पैसे लेकर नदी पार करा रहे हैं। पंजाब हरियाणा में बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर काम करते हैं। लॉकडाउन होने के बाद मजदूर अपने घरों को पलायन कर रहे हैं। लेकिन, सरकार के आदेश पर राज्यों की सीमाएं पूरी तरह से सील की गई हैं। सहारनपुर और हरियाण की सीमा यमुना नदी होने के कारण पुल पर बैरियर लगा दिये गये हैं। जिससे लोगों को पुल पार नहीं करने दिया जा रहा है। ऐसे में मजदूरों के सामने नदी को पार करने का विकल्प हैं।

गुरुवार रात को यमुनानगर से नकुड पहुंचे मुजफ्फरनगर के विकास, संजू, भोपा निवासी बंटू व विपिन ने बताया कि वह यमुनानगर में पीओपी पेंट का काम करते हैं। लेकिन लॉकडाउन में काम बंद हो गया। ठेकेदार भी पैसे लेकर भाग गया। जिसके बाद वह पैदल ही यमुनानगर से मुजफ्फरनगर के लिए निकल गये। सड़क पर पुलिस होने के कारण वह दूसरे रास्तों से आ रहे हैं। नकुड क्षेत्र में यमुनानदी पार की और नसरूल्लागढ़ पहुंचे। एक नांव के सहारे उन्होंने यमुना नदी पार की। उन्होंने बताया कि पहले तो डर भी लगा था, लेकिन मजबूरी में वह नांव में बैठ गये और नकुड़ पहुंचे। यहां से पैदल ही अपने-अपने घर पहुंच जाएंगे।

0-कुछ मजदूरों ने बताया कि 200 रुपये में की नदी पार

नकुड़। यमुना पार कर रहे मजदूरों की मजबूरी का फयदा भी जमकर उठाया जा रहा है। बिहार के चंपारण जिले के कुछ मजदूरों ने बताया कि उन्होंने नांव से यमुना नदी पार करने के लिए दो-दो सौ रुपये का भुगतान किया है। जब उन्होंने नकुड के लोगों को इस बात के बारे में बताया तो उन्होंने सभी मजदूरों को 200-200 रुपये देकर आगे भेजा।

वर्जन

पैदल ही मजदूर अपने घरों को निकल रहे हैं। हरियाणा और सहारनपुर की सीमाक्षेत्र में यमुना नदी पार करने की भी सूचना मिल रही है। नकुड क्षेत्र में कुछ मजदूरों के यमुना पार कर नकुड पहुंचने की बात सामने आई है। पुलिस को निर्देश दिये गये हैं कि इसकी जांच कराकर इसे रोका जाए।

-विद्यासागर मिश्र, एसपी देहात।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Labor Day Migrant laborers crossed the Yamuna putting their lives at risk