DA Image
1 अक्तूबर, 2020|3:10|IST

अगली स्टोरी

हड़ताल पर गए सफाईकर्मी, ईओ के खिलाफ नारेबाजी

default image

ठेकेदार की गिरफ्तारी व वेतन संबंधी मांगों को लेकर सफाई कर्मचारी बुधवार को बेमियादी हड़ताल पर चले गए। उन्होंने कार्यालय में धरना देकर नगर पंचायत ईओ के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। सूचना पर पहुंचे एसडीएम और सीओ ने ईओ और कर्मचारियों के बीच मध्यस्थता का प्रयास किया, लेकिन कर्मचारी संतुष्ट नहीं हुए और ईओ के तबादले की मांग पर अड़ गए। हड़ताल जारी रखने का ऐलान किया है।

नगर पंचायत में तैनात संविदा और निविदा सफाई कर्मचारी मांगों को लेकर पिछले काफी समय से ईओ से नाराज हैं। उनका आरोप है कि वेतन देने में मनमानी करते हैं। पिछले दिनों नगर पंचायत में हंगामे के दौरान ईओ की हिमायत में आए एक ठेकेदार राजेंद्र गुप्ता उर्फ राजू से कर्मचारियों का विवाद हो गया था। आरोप था कि ठेकेदार ने सफाईकर्मी प्रमोद व अन्य को जातिसूचक शब्दों से अपमानित किया, मारपीट की। प्रमोद की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया है, लेकिन अभी तक गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। आरोपी ठेकेदार की गिरफ्तारी व वेतन संबंधी मांगों को लेकर बुधवार को तयशुदा कार्यक्रम के तहत सभी सफाईकर्मचारी हड़तात पर चले गए। उन्होंने धरने पर बैठकर जमकर नारेबाजी की। एसडीएम राकेश गुप्ता और सीओ श्रीकांत समझाने पहुंचे। कर्मचारियों ने आरोप लगाए कि ईओ नौकरी से हटाने की धमकी देकर ठेकेदार से समझौते का दबाव बना रहे हैं। कई हलफनामे भी इस तरह से ले लिए हैं। सीओ ने हलफनामे खारिज करने का आश्वासन दिया। एसडीएम ने समय से वेतन दिलवाने व वाल्मीकि समाज के साथ ही सफाईकर्मचारी के पद पर तैनात सभी लोगों से समान कार्य कराए जाने का आश्वासन भी दिया। लेकिन सफाई कर्मचारी यह कहते हुए ईओ के तबादले की मांग पर अड़ गए कि अब वह यहां रहते हुए उन्हें नुकसान पहुंचाने की कोशिश करेंगे। सफाईकर्मचारियों ने बताया कि गुरुवार को भी उनकी हड़ताल रहेगी।

-------

मीडियाकर्मियों से अभद्रता, हिदायत:

शाहबाद। बुधवार को हड़ताल व धरने से ईओ इस कदर बौखला गए कि उन्होंने वहां कवरेज को पहुंचे मीडियाकर्मी से अभद्रता कर दी। सफाई कर्मचारी और बिफर गए। एसडीएम को इस मामले की जानकारी हुई तो उन्होंने ईओ को सख्त हिदायत जारी की।

------

गिरफ्तारी विवेचना के बाद: सीओ

शाहबाद। सफाई कर्मचारियों की मुख्य मांग एससीएसटी एक्ट के आरोपी ठेकेदार को गिरफ्तार कर जेल भेजे जाने की थी। सीओ विवेचक हैं, लिहाजा एसडीएम के साथ सीओ भी उनके बीच पहुंचे। कर्मचारियों ने कहा कि एससी-एसटी एक्ट में तत्काल गिरफ्तारी का प्रावधान है। लेकिन सीओ ने बताया कि विवेचना के बाद कोर्ट के समन के बाद ही गिरफ्तारी होगी। कर्मचारियों ने बताया कि इस संबंध में एसपी से मिलेंगे।

-------

सफाई कर्मचारी मांगों को लेकर हड़ताल पर रहकर धरना दे रहे हैं। पहले वे मान गए थे, लेकिन बाद में हड़ताल से हटने से इनकार कर दिया। वार्ता का प्रयास चल रहा है।

-राकेश गुप्ता, एसडीएम शाहबाद

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Slogans against strike slogans against EO