DA Image
19 सितम्बर, 2020|11:41|IST

अगली स्टोरी

खाद की कालाबाजारी में व्यापारी के खिलाफ रिपोर्ट

default image

खाद की कालाबाजारी में व्यापारी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। व्यापारी ने अपने चहेतों के नाम पांच हजार खाद के कट्टों की बिक्री दिखा दी, जिन्हें किसानों को दिया जाना था। जिला कृषि अधिकारी ने गंज कोतवाली में व्यापारी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है, जिसकी जांच पड़ताल शुरू कर दी गई है। जनपद में खाद को लेकर मारामारी चल रही है। किसानों के खेतों में धान की फसल खड़ी है।

फसल को यूरिया खाद की जरूरत है। हालांकि प्रशासन और सहकारिता विभाग के अधिकारी खाद को पैक्स समितियों के जरिए मुहैया कराते हैं, लेकिन इसकी कमी चल रही है। महीनों ने समितियों पर किसानों की लाइन लग रही है। उन्हें खाद के लिए जूझना पड़ रहा है। कृषि विभाग से लाईसेंस होल्डर व्यापारी भी खाद बेच रहे हैं, लेकिन ईमानदारी से बेचने के बजाए ब्लैक कर रहे हैं। जिला कृषि अधिकारी चन्द्र कुमार सागर ने रामपुर नवीन मंडी के पास मैसर्स रफीक एंड संस पर छापा मारा था, जहां तमाम कमियां पाई गई थीं। खाद बेचने का रिकार्ड भी तैयार नहीं था। जांच में पता चला कि पांच लोगों के नाम से ही पांच हजार खाद के बोरों की बिक्री दर्शा दी गई, जबकि हकीकत में खाद को ब्लैक कर दिया गया। किसान का नाम पता सब दर्ज किया जाना था, लेकिन ऐसा नहीं था। जांच में खाद की कालाबाजारी पाई गई, जिस पर कृषि अधिकारी ने गंज कोतवाली में मैसर्स रफीक एंढ संस के प्रोप्राइटर शहर के मुहल्ला घेर पीपल वाला निवासी जुनैद खां के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने खाद की बिक्री की जांच शुरू कर दी है। गंज कोतवाल रामवीर सिंह ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Report against businessman in black marketing of manure