DA Image
19 अक्तूबर, 2020|1:10|IST

अगली स्टोरी

रामलीला के स्थान पर होगा रामचरितमानस का पाठ

default image

नगर की श्रीरामलीला नाट्य परिषद् कमेटी ने रामलीला मंचन के स्थान पर दस दिवसीय रामचरितमानस पाठ कराए जाने का निर्णय लिया गया है, जिसका देर रात शुभारम्भ भी कर दिया गया है। पाठ का कार्यक्रम प्रतिदिन रात 8 बजे से लेकर 11 बजे तक किया जाएगा।

नगर में वर्षों से रामलीला के मंचन का कार्यक्रम होता आ रहा है। जिसकी लोकप्रियता शहर ही नही गांव-गांव तक फैली हुई है। नगर की रामलीला के मंचन का कार्यक्रम बहुत-बहुत दूर से लोग देखने आते हैं और भक्ति-भाव से खूब जयकारें भी लगाते हैं। लेकिन, इस बार यह सब देखने को नही मिल पाएगा। इसकी प्रमुख वजह है कोरोना महामारी।

इस महामारी को देखते हुए श्री रामलीला नाट्य परिषद् कमेटी द्वारा मंचन का कार्यक्रम स्थगित कर उसके स्थान पर रामचरितमानस का पाठ करवाए जाने का फैसला लिया गया है। संगठन के पदाधिकारियों का कहना है कि नगर की रामलीला की लोकप्रियता बहुत अधिक है। जिसकी वजह से यहां काफी भीड़ जमा हो जाती है। लेकिन, इस बार सबके हित में फैसला लेते हुए मंचन के कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया। लिहाजा देर रात कमेटी के पदाधिकारियों द्वारा विधि-विधान से पूजा-अर्चना कर रामचरितमानस के पाठ का शुभारम्भ किया गया। इस मौके पर अध्यक्ष मनोज अग्रवाल, महामंत्री दुष्यंत अग्रवाल, सुरेश मिश्रा, भाजपा जिला उपाध्यक्ष चित्रक मित्तल, विहिंप नगरध्यक्ष अनिल मदान, चेतन पारूथी, संजय अग्रवाल, सतीश बंसल, रामफल अग्रवाल सहित आदि लोग सम्मिलित रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ramcharitmanas will be read in place of Ramlila