DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ताशका से उजाड़े बाशिंदो ने डीएम को सुनाई आपबीती

ताशका से उजाड़े बाशिंदो ने डीएम को सुनाई आपबीती

सपा शासन में ताशका बस्ती से उजाड़े गए बाशिंदो ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर डीएम से मुलाकात की और आपबीती सुनाई। कहा कि पूर्व सीओ आले हसन ने पुलिस को साथ लेकर तत्कालीन मंत्री के आदेश पर उनको बस्ती से उजाड़ दिया। कहा कि उनको इंसाफ दिलाया जाए।

ताशका से उजाड़े गए लोगों को साथ लेकर कांग्रेस नेता फैसल खान लाला डीएम से मिले, पीड़ित परिवारों ने फैसल लाला के माध्यम से एक ज्ञापन डीएम को देकर इंसाफ की गुहार लगाई। कहा कि वह 50-60 वर्षों से तहसील सदर ग्राम ताशका में रहते थे। वर्ष 2011 में डूडा विभाग के माध्यम से मकान बनाकर दिए थे जिसका आवंटन पत्र भी हमारे पास मौजूद है। आरोप है कि 2013 में तत्कालीन सीओ आलेहसन, पूर्व चेयरमैन अज़हर खां व अन्य पुलिस कर्मियों ने उनके घरों में घुसकर दहशत का माहौल बनाकर मारापीटा और घरों से बाहर निकाल दिया। उसके बाद मकानों पर बुल्डोज़र चलवा दिया और सारा सामान लूटकर ले गए।

फैसल लाला ने कहा कि पीड़ित परिवारों ने डीएम से गुहार लगाई है कि दोषियों के खिलाफ ना सिर्फ कानूनी कार्यवाही की जाए बल्कि हमें हमारे आवास और जमीन वापस दिलाई जाए। इस मौके पर कांग्रेस नेता मुतीउर रहमान खान के साथ ही कलुआ, अनवर, जाफर अली, अनवर अली, जयसिंह भी मौजूद रहे।

सपा शासन में उजाड़े गए दुकानदारों ने वापस मांगी दुकानें

रामपुर। सपा शासन में शौकत अली रोड से उजाड़े गए 22 दुकानदारों ने छह साल बाद अपनी आवाज उठाई है। कहा कि उनको बापू माल या फिर किसी अन्य स्थान पर दुकानें आवंटित की जाएं।

शौकत अली रोड पर आवास विकास कालोनी के पास नगर पालिका परिषद की ओर से बनाई गई 22 दुकानों को वर्ष 2013 में अवैध बताते हुए तोड़ दिया गया था। गुरुवार को उजाड़े गए इन दुकानदारों ने प्रशासन के सामने गुहार लगाई है। दुकानदारों ने जिलाधिकारी से मुलाकात कर कहा कि सपा शासन में उनकी 22 दुकानों को अवैध बताते हुए पालिका ने तोड़ दिया था। दुकानें तोड़े जाने के बाद वह बेरोजगार हो गए थे। कहा कि पालिका ने इन दुकानों को तोड़ते वक्त दूसरे स्थान पर दुकाने देने का वादा किया था,लेकिन छह साल बाद भी इन लोगों को दुकानें उपलब्ध नहीं कराई गई। दुकानदारों का कहना है कि उनको रोजगार देने के लिए शहर में बापू माल या फिर शिवि सिनेमा के पास खाली जमीन पर दुकानें बनाकर दी जाएं। कहा कि उनको दुकाने आवंटित की जाएं,ताकि किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं हो। इस मौके पर मधुबाला खत्री, अनिल कुमार, मधुबाला, अमरपदीप, गुरु वचन, रजीनश खनेजा, गिरधारी लाल, शाहिद खां, महफूज खां, बाबू खां,शरीफ अहमद, अनिल मदान समेत अन्य मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:People desolated from Tashka heard DM