DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नगर कीर्तन: गुरु ग्रंथ साहिब की पालकी के दीदार को उमड़े श्रद्धालु

नगर कीर्तन: गुरु ग्रंथ साहिब की पालकी के दीदार को उमड़े श्रद्धालु

1 / 3फूलों से भव्य रूप से सजी पालकी में विराजमान गुरु ग्रंथ साहिब। ऊंट और घोड़ोंे पर सवार निहंग। गुरुवाणी करते चलते महिला और पुरुष रागी कीर्तन जत्थे। हैरतंगेज करतब दिखाकर भीड़ को अपनी तरफ खींचते युवक और...

नगर कीर्तन: गुरु ग्रंथ साहिब की पालकी के दीदार को उमड़े श्रद्धालु

2 / 3फूलों से भव्य रूप से सजी पालकी में विराजमान गुरु ग्रंथ साहिब। ऊंट और घोड़ोंे पर सवार निहंग। गुरुवाणी करते चलते महिला और पुरुष रागी कीर्तन जत्थे। हैरतंगेज करतब दिखाकर भीड़ को अपनी तरफ खींचते युवक और...

नगर कीर्तन: गुरु ग्रंथ साहिब की पालकी के दीदार को उमड़े श्रद्धालु

3 / 3फूलों से भव्य रूप से सजी पालकी में विराजमान गुरु ग्रंथ साहिब। ऊंट और घोड़ोंे पर सवार निहंग। गुरुवाणी करते चलते महिला और पुरुष रागी कीर्तन जत्थे। हैरतंगेज करतब दिखाकर भीड़ को अपनी तरफ खींचते युवक और...

PreviousNext

फूलों से भव्य रूप से सजी पालकी में विराजमान गुरु ग्रंथ साहिब। ऊंट और घोड़ों पर सवार निहंग। गुरुवाणी करते चलते महिला और पुरुष रागी कीर्तन जत्थे। हैरतंगेज करतब दिखाकर भीड़ को अपनी तरफ खींचते युवक और बच्चे। गुरुवाणी की धुन बिखेरते बैंड। इत्र की खुशबू से महकता वातावरण। वाहे गुरु का खालसा और वाहे गुरु की फतह और जो बोले सो निहाल सतश्री अकाल के उद्घोष से गूंजता वातावरण। यह दृश्य था दशम गुरु गोविंद सिंह जी महाराज के प्रकाशोत्सव पर निकले भव्य नगर कीर्तन का।

मंगलवार को नगर कीर्तन निकाला गया। दोपहर 12 बजे गुरुग्रंथ साहिब गुरुद्वारे से गुरु ग्रंथ साहिब के स्वरूप को शास्त्रीनगर गुरुद्वारे ले जाया गया। यहां से दोपहर करीब एक बजे गुरु ग्रंथ साहिब को पालकी में स्थापित करने के साथ शुरु हो गई नगर कीर्तन की धूम। प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण एवं सिंचाई राज्यमंत्री बलदेव सिंह औलख ने जो बोले सो निहाल सतश्री आकाल के उद्घोष के बीच नगर कीर्तन को हरी झंडी दिखाकर शुभारंभ किया। राज्यमंत्री का सिरौपा भेंट कर स्वागत किया। गुरुद्वारे से प्रारंभ होकर नगर कीर्तन तोपखाना रोड, मछली बाजार, फर्राशखाना, हामिद गेट, पुरानी तहसील,जामा मस्जिद, बाजार नसरुल्ला खां होते हुए हाथीखाना स्थित खालसा मुहल्ला पहुंचा। यहां कलगीधर गुरुद्वारा कमेटी द्वारा नगर कीर्तन का स्वागत किया गया। नगर कीर्तन में शामिल गुरुद्वारा कमेटियों के प्रधान और गणमान्य व्यक्तियों के सिरौपे भेंट कर स्वागत किया। यहां से नगर कीर्तन नगर पालिका परिषद कार्यालय,शाहबाद गेट से शौकत अली मार्ग से आवास विकास कालोनी चौराहा, राम रहीम ओवर ब्रिज होते हुए सिविल लाइंस कोतवाली के सामने नेशनल हाइवे पहुंचा। हाइवे से रेलवे स्टेशन, गुरुग्रंथ साहिब जी द्वार, गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा, गुरुद्वारा गुरु नानक दरबार होता हुआ देर रात गुरु गोविंद सिंह पार्क में पहुंचकर समाप्त हो गया।

नगर कीर्तन में शामिल रहे गणगान्य लोग

गुरुद्वारा गुरुनानक दरबार के प्रधान गुरुजीत सिंह आहूजा, निर्मल सिंह, मनोहर सिंह, दर्शन सिंह खुराना, जगजीत सिंह, निहाल सिंह, रघुवीर सिंह उप्पल, इंद्रजीत सिंह चिटकारा, गुरुचरन सिंह आहूजा, अवतार सिंह, राधेश्याम अरोरा, हरीश अरोड़ा, औंकार सिंह, सतविंदर सिंह चिन्ना, मनमीत सिंह मित्ते, नरेंद्रपाल सिंह लक्की, हरभजन सिंह बत्रा, अजीत सिंह, हरपाल सिंह, पपिंदर सिंह, गुरुमीत सिंह आहूजा, पूर्व सभासद गुलशन अरोरा,अजीत सिंह, रूबी, चरण मांसी, सुरजीत कौर, बंटी आदि मौजूद रहे।

झाडू लगाकर सेवा करने उमड़े सेवादार

गुरु ग्रंथ साहिब की पालकी के आगे पंच प्यारे और निशानची चल रहे थे। कड़ाके की सर्दी के बाद सैकड़ोंे की तादात में सेवादार गुरु ग्रंथ साहिब की पालकी के आगे झाडू लगाकर सड़क साफ कर पानी से धोते हुए चल रहे थे। सेवादारों का उत्साह देखते ही बनता था। गुरुग्रंथ साहिब की पालकी के आगे आगे पूरे रास्ते फूल बिछाए गए। लोगों ने शीश नबाकर गुरु का आशीष लिया।

नगर कीर्तन पर हुई इत्र की वर्षा

नगर कीर्तन में शामिल श्रद्धालुओं पर इत्र की वर्षा करते हुए सेवादार चल रहे थे। गुरु गं्रथ साहिब की पालकी पर भी इत्र छिड़कते सेवादार चल रहे थे। शास्त्रीनगर, बाबा दीप सिंह नगर, सीआरपीएफ, खालसा मुहल्ला और स्त्री सत्संग सभा के महिला कीर्तन जत्थे गुरु की महिमा का बखान करते चल रहे थे।

स्वर्ण मंदिर की झांकी ने मन मोहा

नगर कीर्तन के सबसे आगे प्रेम पंजाबी मुराबाद की भांगडा पार्टी चल रही थी। इसके पीछे घोड़ों और ऊंट पर सवार निहंग थे। इस्लाम नगर की स्टार शहनाई ताशा पार्टी, साबरी सोनू बैंड, सोनी बैंड, भारत बैंड, मस्ताना बैंड और मोगा से आया शेरे पंजाब बैंड गुरुवाणी की धुन बिखेरते चल रहे थे। नगर कीर्तन में शामिल स्वर्ण मंदिर दरबार साहिब की झांकी लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रही थी। खालसा स्केटिंग फोर्स, बाबा दीप सिंह अखाड़ा के युवक हैरतंगेज करतब दिखाते चल रहे थे। गुरुनानक कन्या उच्चतर माध्यमिक स्कूल की बालिकाएं पीटी का प्रदर्शन कर रही थीं। बिलासपुर मिल्टन ऐकेडमी की छात्राओं का बैंड नगर कीर्तन की शोभा बढ़ा रहा था।

बिजली की रोशनी ने नहाये गुरुद्वारे और नगर कीर्तन मार्ग

गुरु गोविंद सिंह महाराज के प्रकाशोत्सव पर सिविल लाइंस इलाका रंग-बिरंगी बिजली की रोशनी से जगमगा उठा। गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा, गुरुद्वारा संतभाई जी बाबा, गुरुद्वारा गुरुनानक दरबार, गुरुद्वारा गुरुग्रंथ साहिब द्वार, गुरुद्वारा कलगीधर जी महाराज, गुरुद्वारा शास्त्रीनगर और गुरुद्वारा बाबा दीप सिंह नगर स्थित गुरुद्वारे विद्युत की रंग-बिरंगी रोशनी से नहा उठे। दशमेश नगर स्थित गुरु गोविंद सिंह पार्क को जाने वाले सभी रास्तों, गुरुद्वारा मार्ग, रेलवे स्टेशन रोड, वीपी कालोनी और हाइवे के अलावा सिविल लाइंस की सड़कों की सजावट देखते ही बनती थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Nagar Kirtan: People gathered for darshan of Guru Granth Sahib