DA Image
28 अक्तूबर, 2020|5:47|IST

अगली स्टोरी

अवशेषों का निस्तारण कर फसल बनाएं उपजाऊ

default image

प्रदेश के राज्यमंत्री बलदेव सिंह ने किसानों से अपील की है कि फसल के अवशेषों का खेतों में निस्तारण कर फसल को उपजाऊ बनाएं। पराली जलाने से बचें यह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

कृषि विज्ञान केंद्र धमोरा में आयोजित कृषक गोष्ठी में उन्होंने भारत सरकार तथा उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा किसानों के हित में चलाई जा रही योजनाओं के बारे में किसानों को विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई तथा उनके द्वारा किसानों के संबंध में जारी किए कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य संवर्धन और सरलीकरण विधेयक 2020 के बारे में भी चर्चा की। उन्होंने किसानों से फसल अवशेष न जलाए जाने की भी अपील की गई। कहा कि आधुनिक वैज्ञानिक पद्धति से फसल अवशेषों का खेतों में ही निस्तारण करके खेत की उपजाऊ क्षमता को बढ़ाएं। उन्होंने 20 किसानों को सरसों व मसूर के मिनी किट का वितरण तथा कृषकों के चार समूहों को फार्म मशीनरी बैंक योजना के अंतर्गत ट्रैक्टर की चाबी भी सौंपी गई। इस अवसर पर उप निदेशक कृषि नरेंद्र पाल द्वारा रबी की फसलों की तैयारी, रवि फसलों की उन्नतशील प्रजातियां ,पॉलीहाउस में खेती, किसानों की आय दोगुनी करने की रणनीति आदि के संबंध में विस्तार में किसानों को जानकारी दी गई। कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डा. मनोज के द्वारा पशुपालन के विस्तार में चर्चा की गई वहीं डा. वीरेंद्र सिंह द्वारा रबी फसलों को विभिन्न रोगों व कीटों से बचाने तथा रोगों के उपचार के बारे में विस्तार से चर्चा की गई। कृषि उत्पादक संगठन द्वारा एफपीओ की उपयोगिता का महत्व भी बताया गया। जिला कृषि अधिकारी चंद्रगुप्त सागर, एलडीएम टीपी सिंह एवं सहायक निदेशक मत्स्य शिवकुमार आदि उपस्थित रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Make the crop fertile by disposing of residue