DA Image
29 मार्च, 2020|8:02|IST

अगली स्टोरी

लॉक डाउन: सब्जियों और फलों के दाम निर्धारित

लॉक डाउन: सब्जियों और फलों के दाम निर्धारित

लॉक डाउन के बीच लोगों को जरूरी सामान पहुंचाने की कवायद शुरू कर दी गई है। प्रशासन ने कालाबाजारी रोकने के लिए जरूरी सामानों की कीमतों का निर्धारण कर दिया है, इसमें फल दूध और सब्जी शामिल हैं। डीएम ने साफ किया है कि रेट से ज्यादा बेचने वालों वालों पर अब कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही प्रशासन ने निजी डाक्टरों की फोन नंबरों की सूची जारी की है। कोई भी व्यक्ति मुफ्त में फोन के जरिए डाक्टरों से संपर्क कर सकता है।

कोरोनावायरस के संक्त्रमण को रोकने के लिए मंगलवार आधी रात से लॉक डाउन हो चुका है। लॉक डाउन के दौरान लोगों तक जरूरी सामान पहुंचाने के लिए प्रशासन ने अपनी ताकत लगा दी है। लोगों को घरों तक दूध, फल और सब्जी महंगे दामों न पहुंचे इसके लिए प्रशासन की ओर से कीमतों का निर्धारण कर दिया गया है। डीएम आंजनेय कुमार सिंह ने सभी सामान के रेट निर्धारित करते हुए लिस्ट जारी कर दी है डीएम ने साफ किया है यदि कोई विक्त्रेता निर्धारण रेट से ज्यादा रेट पर सामान बेचते हुए पाया जाता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने लोगों से घर पर ही रहने की अपील की है। कहा है कि आप घर में रहे आपकी सेवा के लिए हम सड़कों पर हैं इसलिए घरों से न निकले घरों से निकलने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उनके मुताबिक मोहल्ला समिति जरूरी सामानों की कीमतों की निगरानी करेगी लोग अपनी शिकायत कंट्रोल रूम में भी कर सकते हैं।।

यह है सब्जियों के निर्धारित रेट

आलू 30 से 35 रुपए किलो

प्याज 35 से 40 रुपये किलो

टमाटर 30 से 35 रुपये किलो

लोकी 25 से 30 रुपये किलो

गोभी 20 से 25 रुपये किलो

हरी मिर्च 70 से 80 रुपये किलो

भिंडी 80 से 90 रुपये किलो

यह है फलों के रेट

संतरा --45 से 50 रुपये प्रति किलोग्राम

सेब--- सौ रुपए से110 रुपये

पपीता----- 35 से 40 रुपए

दूध ---- 40 से 45 रुपये किलो

ब्रेड के दाम 20 से 25 रुपए

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Lock down Prices of vegetables and fruits fixed